अंग्रेजों से लड़ाई के 8 महत्वपूर्ण पड़ाव,ऐसे हुए हम गुलाम से आजाद - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

Thursday, October 29, 2020

अंग्रेजों से लड़ाई के 8 महत्वपूर्ण पड़ाव,ऐसे हुए हम गुलाम से आजाद

 

भारतीय स्वतंत्रता के आठ पड़ाव।

1- प्लासी का युद्ध - 23 जून 1757 को हुआ यह युद्ध सिराजुद्दौला और रोबर्ट क्लाइव के बीच है था।
सिराजुद्दौला द्वारा ब्रिटिश प्रभूसत्ता को नकारने के कारण हुए इस युद्ध में सिराजुद्दौला की पराजय हुई अपितु हम का सकते हैं कि ब्रिटिशों के विरूद्ध युद्धों और उनके प्रभुसत्ता को चुनौती देने की पहल थी।
2.प्रथम स्वतंत्रता संग्राम - 1857 में हुआ यह विद्रोह मंगल पाण्डेय,तात्या टोपे,बहादुर शाह ज़फ़र,कुंवर सिंह के नेतृत्व में लड़ा गया।
अंग्रेजों के विरुद्ध यह भारतीयों द्वारा लड़ा जाने वाला सबसे बड़ा और विध्वंसक युद्ध था।
credit: third party image reference3.भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना-भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना 1885 में ए.ओ. ह्यूम ने की थी। इसकी स्थापना का उद्देश्य था स्वतंत्रता के लिए वैचारिक संस्था का निर्माण करना साथ ही कोंग्रेस सम्पूर्ण भारत में राष्ट्रवाद को विकसित करना चाहती थी।कोंग्रेस ने भारत में कई आंदोलनों का नेतृत्व किया।
4.स्वदेशी आंदोलन-इस आंदोलन ने अंग्रेजों के व्यापार और समृद्धि पर गहरा आघात किया। 1905 में बंगाल विभाजन के बाद पूरे भारत में विदेशी वस्तुओं की होली जलाई जाने लगी,और ऐसा लगने लगा कि अंग्रेजों के आर्थिक नब्ज को भारत के नेताओं ने पकड़ लिया हो।
5.असहयोग आंदोलन-महात्मा गांधी के नेतृत्व में इस आंदोलन ने पूरे भारत में अपनी पहचान बनाई,लाखों लोग इसमें शामिल हुए।यूनिवर्सिटी के शिक्षकों,वकीलों,कर्मचारियों ने इसके लिए इस्तीफे दिए और अंग्रेजी सरकार को सहयोग ना करने की कसम खाई।

6. नमक आंदोलन-यह सविनय अवज्ञा आन्दोलन के नाम से भी जाना जाता है,महात्मा गांधी के नेतृत्व में लोगों ने नमक कानून को भंग किया और अंग्रेजी सरकार को बता दिया कि असहयोग के साथ साथ उन कानूनों को भी तोड़ा जाएगा जो भारतीय लोगों के हित में नहीं हो।
7.भारत छोड़ो आंदोलन-इस आंदोलन की शुरुआत 9 अगस्त 1942 को हुई। इस आंदोलन ने विराट रूप धारण करके अंग्रेजों को भारतीय शर्त मानने पर मजबुर कर दिया। 
8. आजाद हिन्द फौज-कहते हैं कि ब्रिटिश भारतीय भूमि पर यदि राज कर पाए तो सबसे बड़ा कारण ब्रिटेन कि नौसेना थी,उस समय पूरे विश्व में ब्रिटिश नौसेना उत्कृष्ट थी,परन्तु आजाद हिन्द फौज के कारण ब्रिटिश नौसेना में भी जंग लग गया अर्थात नौसेना में विद्रोह हो गया इसके कारण अंग्रेजों में भारत में रहने से असुरक्षा का भाव आने लगा।
यह सबसे प्रबल और सबसे अंतिम किल थी ब्रिटिश सम्राज्य पर।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment