पिता की मर्जी के खिलाफ बने एक्टर, फिर 20 साल छोटी एक्ट्रेस के विनोद खन्ना ने काटे होंठ - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

06 October 2020

पिता की मर्जी के खिलाफ बने एक्टर, फिर 20 साल छोटी एक्ट्रेस के विनोद खन्ना ने काटे होंठ


एक जमाने में विनोद खन्ना (Vinod Khanna) का नाम हिंदी सिनेमा के टॉप सुपरस्टार्स में गिना जाता था. भले ही आज विनोद खन्ना हम सबके बीच नहीं है लेकिन उनके किरदार आज भी फैंस के दिलों में बसते हैं. विनोद खन्ना के फिल्मी करियर की शुरुआत विलेन के किरदार से हुई थी और इसके बाद वह हीरो बन गए. 6 अक्टूबर 1946 को पाकिस्तान के पेशावर में जन्मे विनोद खन्ना ने अपने लंबे फिल्मी करियर में 150 से ज्यादा फिल्मों में काम किया. तो चलिए इस खास मौके पर जानते हैं उनसे जुड़े वो विवाद जिन्हें लोग आज तक नहीं भुला पाए. सबसे ज्यादा तो उस किस्से ने सुर्खियां बटोरी हैं जब विनोद ने खुद से 20 साल छोटी एक्ट्रेस के होंठ काट लिए थे.

करियर की चोटी पर रिटायरमेंट
साल 1968 में ‘मन का मीत’ फिल्म से विनोद खन्ना के एक्टिंग करियर की शुरुआत हुई थी इसमें उनका रोल एक विलेन का था. जिसे दर्शकों ने खूब पसंद किया था. इसके बाद 1971 में सोलो लीड रोल में फिल्म ‘हम तुम और वो’ में काम किया और ‘मेरे अपने’ (1971) से वह हर किसी के दिल में बसने लगे.

इन फिल्मों के बाद विनोद ने कई सुपरहिट फिल्में दी. विनोद बॉलीवुड के एक ऐसे एक्टर बन गए जिनके साथ काम करने की चाहत हर किसी की थी. विनोद का फिल्मी करियर खूब अच्छा था मगर वह बॉलीवुड के एक ऐसे एक्टर बन गए जिन्होंने करियर की चोटी पर रिटायरमेंट ले लिया. इससे न सिर्फ इंडस्ट्री बल्कि फैंस को भी धक्का लगा था. 1999 में विनोद को फिल्मफेयर लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया.

अमिताभ बच्चन के कड़े प्रतिद्वंदी
विनोद खन्ना इतने फेमस थे कि अमिताभ बच्चन को कड़ी टक्कर देते थे. वैसे तो इन दोनों ही सुपरस्टार्स ने कई फिल्मों में साथ काम किया. मगर एक विनोद ही थे जो उस जमाने में अमिताभ को टक्कर देते थे. विनोद का फिल्मी करियर अच्छा चल रहा था पर जब उनका 1985 में पत्नी गीतांजली से तलाक हुआ तो वह टूट गए. विनोद इतने अकेले हो गए कि उन्होंने अपना मानसिक संतुलन खो दिया.

इस वजह से फिल्मी करियर भी डूबने लगा मगर उस बीच उनके जीवन में कविता दफ्तरी की एंट्री हुई और दोनों 1990 में शादी के बंधन में बंध गए. इसके बाद इंडस्ट्री को पुराना विनोद मिला था. विनोद फिल्मों के अलावा राजनीति में भी अपनी किस्मत आजमा चुके हैं वह भाजपा के सदस्य थे.

पिता के मर्जी के खिलाफ बने एक्टर
हर पैरेंट्स की तरह विनोद के पिता भी चाहते थे कि उनका बेटा बड़ा होकर एक बिजनेसमैन बने. मगर विनोद इंजीनियर बनना चाहते थे. उस दौरान जब विनोद को फिल्म का ऑफर मिला तो पिता ने साफ इनकार कर दिया और

गुस्से में बंदूक तानकर कहा कि ‘‘अगर तुम फिल्मों में गए तो तुम्हें गोली मार दूंगा.’’ पिता के गुस्से को विनोद तो नहीं लेकिन मां ने संभाला और दो साल तक काम करने की परमिशन मिली.

माधुरी दीक्षित के काटे होंठ
फिल्म इंडस्ट्री में आने के बाद विनोद ने एक से बढ़कर एक रोल किए. मगर उस वक्त वह सुर्खियों में आए जब उन्होंने माधुरी दीक्षित से होंठ काट लिए. जी हां, Times Now में छपी खबर की मानें तो, फिल्म ‘दयावान’ के इंटीमेट सीन की शूटिंग के दौरान विनोद बेकाबू हो गए थे और खुद से 20 साल छोटी माधुरी दीक्षित (Madhuri Dixit) के होंठ काट लिए थे. विनोद खन्ना की इस हरकत पर माधुरी बिखर गई थीं और उनकी खूब आलोचना भी हुई थी. इस सीन पर एक्ट्रेस को आज भी पछतावा है. कहा तो ये भी जाता है कि, माधुरी ने इस सीन को करने से मना कर दिया था मगर मेकर्स की जिद के आगे उन्हें सीन करना पड़ा था और वह सहज नहीं थी.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment