हाथरस केस में चौंकाने वाला खुलासा, कॉल रिकॉर्ड से खुली पीड़िता के भाई और आरोपी की सच्चाई, 104 बार.. - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

07 October 2020

हाथरस केस में चौंकाने वाला खुलासा, कॉल रिकॉर्ड से खुली पीड़िता के भाई और आरोपी की सच्चाई, 104 बार..

hathras victim family

 हाथरस मामले (Hathras case) में लगातार एक के बाद एक नया खुलासा हो रहा है. जिसने लोगों की की नींद उड़ाकर रख दी है. एक तरफ जहां यूपी पुलिस (UP Police) पर लगातार पीड़िता के परिजन कई संगीन आरोप लगा रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश की पुलिस ने जो खुलासा किया है वो हैरान करने वाला है. बताया जा रहा है कि तहकीकात के दौरान पीड़ित परिवार और केस के मुख्य आरोपी संदीप के बीच फोन पर कई बार बातचीत हुई है. दोनों के बीच फोन पर बातचीत का सिलसिला बीते साल अक्टूबर के महीने से शुरू हुआ था. हैरानी वाली बात तो ये है कि पीड़ित परिवार और आरोपी संदीप के बीच 104 बार फोन पर बातचीत की कॉल रिकॉर्ड सामने आई है.

बताया जा रहा है कि हाथरस गैंगरेप मसले में इस राज से पर्दा यूपी पुलिस की ओर से उठाया गया है. जांच में पुलिस की तरफ से जब आरोपी और पीड़ित परिवार के कॉल रिकॉर्ड की छानबीन की गई तो पता चला कि दोनों के बीच साल 2019 के अक्टूबर महीने की 13 तारीख से ही बातचीत शुरू हुई थी. इनमें से ज्यादा फोन चंदपा इलाके से किया गया है. ये इलाका पीड़िता के गांव से तकरीबन 2 किमी की दूरी पर है.

जानकारी के मुताबिक 104 बार कॉल रिकॉर्ड में 62 बार फोन पीड़ित परिवार की तरफ से आरोपी संदीप के पास किए गए हैं. जबकि 42 कॉल आरोपी संदीप ने पीड़ित परिवार को किया है. इसके साथ ही छानबीन में यूपी पुलिस को ये भी जानकारी हाथ लगी है कि पीड़ित परिवार और आरोपी संदीप के बीच समय-समय पर बात होती रही है. आरोपी संदीप को फोन कॉल पीड़िता के भाई की तरफ से की गई थी. हालांकि इस केस में जांच कर रही प्रदेश की स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT) की छानबीन का सिलसिला भी आखिरी दौर में है. कहा जा रहा है कि, हो सकता है कि बुद्धवार को SIT इस मामले पर अपनी तहकीकात की पूरी रिपोर्ट सीएम योगी आदित्यनाथ को सौंप दे.

आपको बता दें कि इस मामले की जांच गृह सचिव भगवान स्वरूप के नेतृत्व में डीआईजी चन्द्र प्रकाश और एसपी पूनम के द्वारा की गई है. गौरतलब है कि SIT ने इस पूरे कांड पर बीते हफ्ते ही अपनी छानबीन शुरू कर दी थी. इसके साथ ही सात दिन के अंदर टीम को पूरी रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा गया था. इस मसले की बारीकी से पड़ताल करने के लिए एसआईटी की टीम चंदपा के उस गांव गई थी, जहां की पीड़िता स्थानीय निवासी थी. इस केस में एसआईटी की टीम ने पीड़िता के परिजनों का भी बयान लिया है.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment