जेल जाएगी अमर दुबे की पत्नी! कब से अलाप रही थी मासूमियत का राग, STF को मिले पुख्ता सबूत - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

05 September 2020

जेल जाएगी अमर दुबे की पत्नी! कब से अलाप रही थी मासूमियत का राग, STF को मिले पुख्ता सबूत

 

उत्तर प्रदेश के कानपुर बिकरू गांव में 2 जुलाई की रात जो कुछ हुआ उसने पूरे देश में सनसनी का माहौल बना दिया। जी हां, सनसनी, अमूमन सनसनी क्यों फैलती है जब कोई गैंगस्टर या हिस्ट्रीशीटर कुछ ऐसा कांड कर देता है जिसके बारे में किसी ने सोचा तक नहीं था। यहां हम 8 पुलिसकर्मियों के हत्यारे शिवली का डॉन कहे जाने वाला हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे की बात कर रहे हैं। दरअसल विकास दुबे तो एनकाउंटर में मारा गया लेकिन इस केस की फाइल अभी तक खुली हुई है। चूंकि कुछ गुर्गे अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं, हालांकि एसटीएफ की टीम लगातार इन गुर्गों की तलाश में जुटी हुई है। वहीं इस बीच एसटीएफ की टीम को विकास दुबे का राइट हैंड कहे जाने वाला शूटर अमर दुबे की पत्नी खुशी के खिलाफ कानपुर गोलीकांड की साजिश में शामिल होने के साक्ष्य मिले हैं।

पुलिस के मुताबिक क्षमा, रेखा और शांति की तरह खुशी को भी जेल में रहना पड़ेगा। बताया जा रहा है कि एसटीएफ के पास विकास दुबे की पत्नी खुशी के खिलाफ पर्याप्त सबूत मौजूद हैं। जिनके आधार पर खुशी का जेल जाना तय है।

बता दें कि कानपुर चौबेपुर के बिकरू गांव में 2 जुलाई की रात विकास दुबे के गुर्गों ने पुलिसकर्मियों पर ताबड़तोड़ गोलियों की बौंछार की थी। जिसमें एक सीओ सहित 7 पुलिसकर्मी मौके पर ही शहीद हो गए थे। इस घटना ने पूरे विभाग को झकझोर कर रख दिया था। वहीं इस घटना की जांच के लिए एसआईटी की टीम भी बैठाई गई।

मालूम हो कि बिकरू कांड में पुलिस ने 21 को नामजद करते हुए जांच के दौरान 39 और लोगों को आरोपी बनाया था। इसमें पुलिस 35 लोगों को जेल भेज चुकी है। आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया कि पकड़े गए सभी आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर के साथ एनएसए की भी कार्रवाई की जाएगी। वहीं जिनका आपराधिक इतिहास ज्यादा है उनकी संपत्ति कुर्क की जाएगी।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment