कंगना ने फिर दोहराया मुंबई को POK कहने वाला राग! शिवसेना से कहा- मुझे कमजोर नहीं समझना - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

14 September 2020

कंगना ने फिर दोहराया मुंबई को POK कहने वाला राग! शिवसेना से कहा- मुझे कमजोर नहीं समझना

kangana twitter

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) अपनी बेबाकी के लिए पहचानी जाती हैं। एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन के बाद वह लगातार सोशल मीडिया पर मूवी माफियाओं पर निशाना साध रही हैं। हालांकि, कंगना ने न केवल मूवी माफियाओं पर निशाना साधा बल्कि महाराष्ट्र सरकार को जमकर घेरा। पिछले दिनों कंगना ने मुंबई (Mumbai) को पाकिस्तान का POK तक कह दिया था, जिसके बाद खूब बवाल खड़ा हुआ था। महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) और कंगना के दरमियां जुबानी जंग के बीच BMC ने मुंबई के पाली हिल स्थित कंगना का ऑफिस तोड़ दिया था, जिसके बाद लगातार कंगना शिवसेना को निशाना बना रही हैं।

वहीं, कंगना रनौत ने एक बार फिर शिवसेना सरकार को घेरा है और ट्वीट कर कह डाला है कि वोह महिला हैं पर कमजोर नहीं। कंगना रनौत ने ट्वीट में लिखा, जब रक्षक ही भक्षक बनने का ऐलान कर रहे हैं, धड़ियाल बन लोकतंत्र का चीरहरण कर रहे हैं, मुझे कमजोर समझ सबसे बड़ी भूल कर रहे हैं। एक महिला को डराकर, नीचा दिखाकर अपनी ही इमेज को धूल कर रहे हैं।

कंगना रनौत ने ये कहते हुए मुंबई से मनाली के लिए उड़ान भर ली। मुंबई से जाते-जाते उन्होंने एक और ट्वीट लिखा जिसमें वह बेहद भावुक नजर आईं। उन्होंने लिखा, भारी मन के साथ मुंबई से जा रही हूं। जिस तरह से मुझे इन दिनों लगातार हमलों से आतंकित किया गया, गालियां दी गईं, मेरे ऑफिस के बाद घर को तोड़ने की कोशिश की गई, मेरे चारों ओर घातक हथियारों के साथ सतर्क सुरक्षा। कहना होगा कि पीओके वाली मेरी बात सही थी।

बता दें कि कंगना रनौत रविवार को महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshiyari) से भी मिली थी जहां उन्होंने अपनी समस्याओं को साझा किया और राज्यपाल ने उनके साथ न्याय करने का आश्वासन दिया। राज्यपाल से मुलाकात के बाद कंगना रनौत ने ट्वीट कर कहा था, थोड़ी देर पहले मैं महामहिम राज्यपाल महाराष्ट्र के राज्यपाल श्री भगत सिंह कोशियारी जी से मिला। मैंने उन्हें अपनी बात समझा दी और यह भी अनुरोध किया कि मुझे न्याय दिलाया जाए कि यह आम नागरिक और विशेष रूप से बेटियों की व्यवस्था में विश्वास बहाल किया जाएगा।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment