PNB बैंक के ग्राहकों को झटका! 1 सितंबर से हुआ ये बड़ा बदलाव - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

01 September 2020

PNB बैंक के ग्राहकों को झटका! 1 सितंबर से हुआ ये बड़ा बदलाव

1 सितंबर से देश में कई बदलाव किए गए हैं, चाहे व बैंकिंग सुविधा को लेकर हो या फिर अन्य कॉरपोरेट सुविधाएं। इस बीच बताया जा रहा है कि देश की दूसरी सबसे बड़ी बैंक पंजाब नेशनल बैंक ने अपने ब्जाज दरों में बढ़ोतरी कर दी है। जिससे की अब लोन लेने वाले व्यक्ति को ज्यादा ब्याज चुकाना पड़ सकता है। इसके साथ ही होम या ऑटो लोन लेने वालों के लिए परेशानी और ज्यादा बढ़ गई है। चूंकि देश में पहले से ही कोरोना संकट का दौर अपने चरम पर है, ऐसे में लागू हुए लॉकडाउन से लोगों के रोजगार भी काफी फर्क पड़ा है। अब बैंकों ने भी अपने हाथ खड़े कर दिए हैं। बता दें कि पीएनबी ने आज से नई दरें लागू कर दी हैं। अब ग्राहक इस नए नियमों के अनुसार ही लोन ले सकेगा। इसके बदले में भारी भरकम ब्याज भी चुकानी पड़ सकती है। दरअसल पंजाब नेशनल बैंक (PNB) ने कर्ज के लिये रेपो से जुड़ी ब्याज दर (RLLR) सोमवार को 0.15 प्रतिशत बढ़ाकर 6.80 प्रतिशत कर दी है, जो आज मंगलवार 1 सितंबर से ही लागू कर दी गई हैं।

बैंकिंग सेवाओं से जुड़े जानकारों का कहना है कि अब पीएनबी से होम लोन या ऑटो लोन लेना महंगा हो जाएगा। चूंकि आवास, शिक्षा, वाहन, सूक्ष्म और लघु उद्योगों को दिए जाने वाले सभी नए कर्ज नए रेपो रेट (RLLR) से जुड़ गए हैं.

इतना ही नहीं पीएनबी ने अपनी आधार दर को 0.10 प्रतिशत घटाकर 8.90 प्रतिशत कर दिया है।

सूत्रों के अनुसार लोन की समय सीमा को लेकर वित्त मंत्रालय बड़ा फैसला ले सकता है। इसके लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण बैंकों के अधिकारियों और NBFCs के साथ एक बैठक करने वाली हैं।

बताया जा रहा है कि वित्त मंत्री की बैठक 3 सितंबर को होने जा रही है।  जानकारों का कहना है कि इस बैठक में कई मुद्दों को लेकर चर्चा हो सकती है।

क्योंकि यह अहम बैठक 31 अगस्त को मोरेटोरियम के खत्म होने के बाद हो रही है। हालांकि मोरेटोरियम को लेकर इस बैठक में चर्चा की जाएगी या नहीं, अभी किसी को अंदेशा नहीं है, लेकिन वन टाइम रीस्ट्रक्चरिंग पर बात होने की पूरी उम्मीद है। अगर वित्त मंत्री मोरेटोरियम को लेकर कोई फैसला लेती हैं, तो इससे ग्राहकों का काफी राहत मिलने की

उम्मीद है। मालूम हो कि लॉकडाउन और कोरोना संकट की वजह से रिजर्व बैंक ने होम लोन ग्राहकों को EMI चुकाने पर 6 महीने की मोहलत दी थी, जिसे मोरेटोरियम कहते हैं। सूत्रों के अनुसार यह मोहलत आगे भी बढ़ाई जा सकती है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment