‘किसानों की स्वतंत्रता बर्दाश्त नहीं कर पा रहा है विपक्ष’, PM मोदी ने विपक्ष को दिया तीखा जवाब - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

30 September 2020

‘किसानों की स्वतंत्रता बर्दाश्त नहीं कर पा रहा है विपक्ष’, PM मोदी ने विपक्ष को दिया तीखा जवाब


कृषि बिल पर लगातार सरकार पर हमलावर रहे विपक्ष को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आईना दिखाते हुए उसके विरोध के एजेंडे को एक्सपोज किया है। पीएम ने इस दौरान बताया कि कैसे विपक्ष जनहित के मुद्दों पर सरकार का विरोध करने के लिए बेबुनियाद और अफवाह फैला रहा है जिसके चलते संसद से सड़क तक अस्थिरता फैलाने की कोशिश की जा रही है। इस पूरे वक्तव्य में पीएम ने एक लंबे वक्त बाद विपक्ष को आईना दिखाया है।

दरअसल, पीएम मोदी ने मंगलवार को जलशक्ति मंत्रालय के अंतर्गत नमामि गंगे की कई परियोजनाओं का लोकार्पण किया और इस दौरान अपने वर्चुअल भाषण में पीएम ने विपक्ष को आड़े हाथ लिया है। इसमें उन्होंने मानसून सत्र के रवैया को भी निंदनीय बताया है। पीएम ने कहा कि जिस ट्रैक्टर की किसान पूजा करते हैं उसे ही विपक्षी जला रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘अभी समाप्त हुए संसद सत्र में देश के किसानों, श्रमिकों और देश के स्वास्थ्य से जुड़े बड़े सुधार किए गए हैं। इन सुधारों से देश का श्रमिक सशक्त होगा, नौजवान सशक्त होगा, महिलाएं सशक्त होंगी, किसान सशक्त होगा. लेकिन आज देश देख रहा है कि कैसे कुछ लोग सिर्फ विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं।’

किसानों के हित की अनदेखी

पीएम ने कहा कि कृषि के नए कानूनों के जरिए किसानों को बिचौलिए से निजात मिली है और वो खुले बाजार में अपनी फसल बेच सकते है। ऐसे में जब किसान खुश हैं तो उन्हें भ्रमित किया जा रहा है और विपक्ष किसानों को मोहरा बनाकर अपने विरोध की गंदी राजनीति कर रहे हैं। विपक्ष को निशाना बनाकर पीएम ने कहा, ‘ये लोग चाहते हैं कि देश का किसान खुले बाजार में अपनी उपज नहीं बेच पाएं। जिन सामानों की, उपकरणों की किसान पूजा करता है, उन्हें आग लगाकर ये लोग अब किसानों को अपमानित कर रहे हैं।’

किसी का सगा नहीं विपक्ष

पीएम ने विपक्ष की प्रकृति को लेकर कहा कि किसानों का हित हो या जवानों का शौर्य सभी के नाम पर विपक्ष ने विरोध ही किया है। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद विपक्ष ने सबूत मांगकर उनका अपमान किया। सेना के रिटायर्ड जवानों के ओआरओपी मामले को भी विपक्ष कभी हल नहीं कर पाया और जब भाजपा सरकार बनी तो इसे हल किया गया।जब देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन की बात सरकार ने कही तो विपक्ष ने विरोध कर संसाधनों की कमी बताई लेकिन आज कोरोनावायरस के कारण डिजिटल लेन-देन चलन बढ़ रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि ये विपक्ष किसान, जवान और आम आदमी किसी का सगा नहीं है।

पीएम ने बताया कि जब कांग्रेस सरकार थी तो वायुसेना सरकार से फाइटर एयरक्राफ्ट की मांग करती रही लेकिन हमेशा ही उनकी अनदेखी होती रही‌। लेकिन जब हमारी सरकार बनी तो हम राफेल लेकर आए। पीएम ने राफेल के भारतीय वायुसेना में शामिल होने पर खुशी जाहिर की है।

देर से दुरुस्त प्रहार

कृषि के नए कानून पर लगातार विपक्ष हमला तो बोल रहा था। लेकिन पीएम इस पर ज्यादा कुछ बोल नही रहे थे। पीएम किसी भी मुद्दे पर अचानक बोल देते हैं। कुछ ऐसा ही इस बार भी हुआ। पिछले 6-7 महीने से लगातार एजेंडा चलाकर सरकार की छवि खराब करने वाले विपक्ष पर पीएम ने एक साथ ही हमलों की झड़ी लगा दी है और उनके खोखले विरोध की पोल-पट्टी खोल दी है। पीएम ने विपक्ष के लिए ऐसे सवाल खड़े किए हैं जिसके जवाब शायद ही उसके पास हों।

पिछले लगभग एक हफ्ते से सड़कों पर ट्रैक्टर समेत कृषि से जुड़े उपकरणों को सड़कों पर जालकर विपक्षी दल सरकार पर हमलावर थे ऐसे में पीएम मोदी के एक वार से विपक्षियों के एजेंडे की हवा निकल गई है साथ ही पीएम को शांत समझने वालों को एक आक्रमक जवाब भी मिल गया है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment