PM-राष्ट्रपति से CJI तक, 10 हजार भारतीयों की जासूसी करा रहा चीन, परिवार भी निशाने पर - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

14 September 2020

PM-राष्ट्रपति से CJI तक, 10 हजार भारतीयों की जासूसी करा रहा चीन, परिवार भी निशाने पर

 

CHINA SPYING ON 10K INDIAN

भारत (India) और चीन (China) के बीच वास्तविक सीमा रेखा यानी LAC पर तनाव बढ़ता जा रहा है। द्विपक्षीय वार्ता में बात क्लियर होने के बावजूद चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। हाल ही में, चीन की एक और नापाक हरकत सामने आई है। दरअसल, खुलासा हुआ है कि चीन देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) और चीफ जस्टिस (CJI) समेत 10 हजार भारतीयों की जासूसी करा रहा है और चीन के नापाक साजिश में चीनी कंपनियां उनका साथ दे रही हैं। इस खुलासे के बाद हर कोई हैरत में है।

नेता से लेकर खिलाड़ी पर चीन की नजर
अंग्रेजी अखबार के एक रिपोर्ट के मुताबिक, चीनी कंपनी शेनजेन भारत के दस हजार बड़े लोगों की जासूसी कर रही है। इनमें प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, सीजेआई, मेयर, केंद्रीय मंत्री, मुख्यमंत्री, मेयर, भारतीय सैनिक के बड़े अफसर से लेकर बिजनेसमैन तक शामिल हैं। सिर्फ नेता ही नहीं खिलाड़ियों पर भी चीन की नजर है। चीनी कंपनी शेनजेन कंपनी का सीधा संबंध चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Xi Jinping) और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी से है।

परिवार पर भी चीन की नजर
रिपोर्ट के मुताबिक, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, गांधी परिवार, ममता बनर्जी, उद्धव ठाकरे, नवीन पटनायक जैसे बड़े नेता, राजनाथ सिंह-पीयूष गोयल जैसे केंद्रीय मंत्री, CDS बिपिन रावत समेत कई बड़े सेना के अफसर पर झेनझुआ डेटा इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी कंपनी लिमिटेड एक-एक जानकारी जुटा रहा है।

10 हजार भारतीय का डाटा बेस
चीनी कंपनी न केवल इन 10 हजार बड़े लोगों पर सोशल मीडिया पर नजर रख रही है बल्कि इनके परिवार पर भी अपनी नजर गढ़ाए हुए है। सभी हस्तियों का डाटा कलेक्ट कर कंपनी चीनी सरकार (Chinese Government) को शेयर कर रही है। इसके लिए कंपनी ने चीनी सरकार के साथ मिलकर एक इन्फॉर्मेशन डाटा बेस बनाया है जिसके तहत ही मिशन पूरा किया जा रहा है। बता दें कि, पिछले दिनों ही एक चीनी नागरिक को गिरफ्तार किया गया था जिसे कथित जासूसी करते हुए पकड़ा गया था। इसी के मद्देनजर सरकार ने कई चीनी कंपनियों को भारत में बैन कर दिया था।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment