चीन के खिलाफ भारत की बड़ी तैयारी, LAC पर तैनात हो रहे हैं ऐसे खतरनाक हथियार - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

03 September 2020

चीन के खिलाफ भारत की बड़ी तैयारी, LAC पर तैनात हो रहे हैं ऐसे खतरनाक हथियार


भारत ने अब चीन को सबक सिखाने की पूरी तैयारी मुकम्मल कर ली है। सीमा पर ऐसे-ऐसे हथियार तैनात किए जा रहे हैं, जिनके बारे में जानकर महज एक मिनट में ही चीन दहल जाएगा। बेहद ही सनकी मिजाजी रहा चीन किसी भी वक्त क्या कदम उठा ले। यह कहना मुश्किल है। लिहाजा ड्रैगन के इसी मिजाज को मद्देनजर रखते हुए भारत सीमा पर अपनी सभी तैयारियों को पुख्ता कर लेना चाहता है, ताकि किसी भी अप्रिय घटना के होते ही ड्रैगन को मुंहतोड़ जवाब दिया जा सके। इसी कड़ी में भारत ने अभी तक सीमा पर  स्पेशल फोर्सेज, इंजीनियरिंग कोर, एयर डिफेंस, तोप, टैंक,स्ट्राइक कोर और 14वीं कोर को तैनात कर रखा है। बताया जा रहा है कि भारत यदि इस बार कोई भी चाल चलता है तो उसे इसका करारा जवाब दिया जाएगा। भारत के हालिया रूख से यह साफ जाहिर हो रहा है कि भारत इस बार ड्रैगन को बख्सने के मूड में नहीं है।

14वीं कोर 
यहां पर हम आपको बताते चले कि लेह में एलएसी की सुरक्षा की जिम्मेदारी किसी और को नहीं बल्कि 14वीं कोर को दी गई है। इसके साथ ही कारगिल, द्रास और बटालिक से सटी एलओसी और सियाचीन गलेशियर पर भी इसे तैनात किया गया है। इसे त्रिशूल डिवीजन के नाम से भी जाना जाता है। बता दें कि डिवीजन में 10 हजार इंफ्रेंट्री यानी पैदल सैनिक, आर्मर्ड, आर्टलरी, एयर डिफेंस और इंजीनियरिंग ब्रिगेड आदि भी शामिल रहते हैं। एक डिवीजन में कम से कम 20 हजार सैनिक पहुंच जाते हैं। शांतिकाल के दौरान भी 20 हजार सैनिक सीमा पर मुस्तैद रहते हैं।

स्ट्राइक कोर 
उधर, भारत ने चीन को हर मौके पर मुंहतोड़ जवाब देने के लिए सीमा पर स्ट्राइक कोर को भी तैनात किया है। बता दें कि एक स्ट्राइक कोर में 40 से 50 हजार सैनिक होते हैं। अब ऐसी स्थिति में जब भारत और चीन के सीमा को लेकर विवाद गहराया हुआ है तो अतरिक्त सैनिकों को भी तैनाती की गई है। चुशुल और डेमचोक इलाके में भी T72 और T90 टैंक को तैनात किया गया है। स्ट्राइक कोर की आर्मर्ज ब्रिगेड को भी तैनात किया गया है। उधर, एलएसी पर तोप तैनात किया गया है। बोफोर्स, एम 774 हवित्जर, मीडियम और फील्ड गन्स को तैनात किया गया है। वहीं, हवाई मार्ग से भी ड्रैगन को करारा जवाब देने के वास्ते स्वदेशी आकाश मिसाइल सिस्टम से लेकर रूसी इग्ला मिसाइल सिस्टम तैनात किया गया है। LAC पर पैरा एसफएफ और स्पेशल फ्रंटियर फोर्स के कमांडोज तैनात किया गया है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment