एसटीएफ ने गलती से बाहुबली अतीक अहमद के बेटे को उठाया, खुलासा होने पर छोड़ा - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

20 September 2020

एसटीएफ ने गलती से बाहुबली अतीक अहमद के बेटे को उठाया, खुलासा होने पर छोड़ा

 

मेरठ। प्रॉपर्टी डीलर को लखनऊ से अगवा कर देवरिया जेल में पीटने के मामले में एसटीएफ ने बाहुबली अतीक अहमद के बेटे अली को मेरठ से उठा लिया था। लेकिन पूछताछ के बाद हुए खुलासे के बाद उसको छोड़ दिया गया। एसटीएफ को सूचना मिली थी कि अतीक का वांटेड बेटा उमर मेरठ में ठहरा हुआ है, इसी जानकारी के आधार पर एसटीएफ ने छापा मारकर अतीक के बेटे को उठा लाई। लेकिन लंबी पूछताछ के बाद पता चला कि एसटीएफ को अतीक के जिस बेटे की तलाश थी यह वह नहीं था। एसटीएफ वांटेड उमर की जगह अली को उठा लाई थी। बता दें कि लखनऊ के प्रॉपर्टी डीलर मोहित जायसवाल को अतीक के बेटे उमर ने 30 दिसंबर, 2018 की सुबह गोमतीनगर स्थित ऑफिस से अगवा कर लिया था।

प्रॉपर्टी डीलर को देवरिया जेल में लाकर उसकी पिटाई की गई। इसके बाद आरोप लगा कि अतीक, उसके बेटे और गुर्गों ने प्रॉपर्टी डीलर से करीब 45 करोड़ रुपए की जमीन अपने नाम लिखवा ली। इस मामले में लखनऊ के कृष्णानगर थाने में अतीक अहमद, उसके बेटे उमर, गुर्गे गुरफान, गुलाम, फारुख व इरफान के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। अतीक अहमद का बेटा उमर वांटेड है और उसके ऊपर दो लाख रुपए का इनाम भी घोषित है। मेरठ एसटीएफ के मुताबिक उसे सूचना मिली थी कि उमर नौचंदी थाना क्षेत्र के भवानीनगर में ठहरा हुआ है। भवानीनगर में माफिया अतीक की सगी बहन की ससुराल है। इसी सूचना के आधार पर एसटीएफ ने छापा मारकर अतीक के बेटे अली को उठा लिया।

एसटीएफ कार्यालय लाने के बाद पूछताछ की तो पता चला कि उन्होंने जिसको उठाया है वह उमर नहीं बल्कि अली है। इस बारे में एसटीएफ के डीएसपी बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि दोनों भाई एक जैसे दिखते हैं। अतीक के इस बेटे अली पर कोई मुकदमा दर्ज नहीं है। एसटीएफ को वांटेड उमर की तलाश है। इसलिए पूछताछ के बाद अली को छोड़ दिया गया है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment