मानसून के दिनों में भुने चने खाना है बड़ा ज़रूरी, इन समस्याओं से मिलेगा छुटकारा - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

14 September 2020

मानसून के दिनों में भुने चने खाना है बड़ा ज़रूरी, इन समस्याओं से मिलेगा छुटकारा

 मानसून के दिनों में हमें कई सारी समस्याएँ एक साथ होने वाली होती हैं। दरअसल, यह संक्रमण का मौसम होता है। संक्रमण में सबसे बड़ा नुकसान तो यही होता है कि हमें शारीरिक तौर पर भले ही कोई समस्या हो न हो लेकिन जब हम किसी बीमार और रोगी के सम्पर्क में आते हैं तो हमें भी वह बीमारी हो जाती है। इन सबसे बचने के लिए आप भुने हुए चने का सेवन कर सकते हैं। आपको बता दें कि भुने हुए चने के अंदर कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन,आयरन, कैल्शियम और विटामिन्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। तो आइए जानते हैं कि मानसून में भुने हुए चने किन-किन चीज़ों में फायदेमंद होता है।

साँस की तकलीफ़
साँस की तकलीफ़ होना मानसून का विशेष लक्षण है। आको बता दें कि मानसून में बढ़ते संक्रमण के ख़तरों के चलड़े यह समस्या हर किसी को हो सकती है। इससे बचने के लिए ज़रूरी है कि अगर मानसून में किसी को सांस की तकलीफ हो जाये तो फिर उसको 50 ग्राम भुने हुए चने रोज़ाने खाने चाहिए। ऐसा करने से वास्तव में सांस संबंधी समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।
मौसमी बुखार
इन दिनों मानसून में अक्सर मौसमी बुखार बहुत सारी समस्याओं को साथ लेकर शरीर में घर कर लेता है। इससे बुखार के साथ-साथ कफ़, जुकाम आदि तकलीफ़ों से हम परेशान होने लगते हैं। इससे बचने के लिए अगर हम बदलते मौसम में ही भुने हुये चने का सेवन करें तो इन सभी बीमारियों से बचा जा सकता है।
ख़ून की कमी
मानसून के दिनों में चूंकि पौष्टिक चीज़ें और हरी सब्ज़ियाँ बाज़ार में उपलब्ध नहीं होती हैं। इसलिए बेहतर खाने की कमी के चलते लोगों के शरीर में ख़ून की कमी की संभावना रहती है। इसके अलावा जिनको किसी और कारण से भी ख़ून की कमी हो तो फिर उन्हें प्रतिदिन 50-100 ग्राम भुना हुआ चना ज़रूर खाना चाहिए।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment