मोदी सरकार को हड़ताली सफाई कर्मियों की खुली धमकी, कहा- नहीं मानी मांगे तो इस्लाम करेंगे कबूल - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

16 September 2020

मोदी सरकार को हड़ताली सफाई कर्मियों की खुली धमकी, कहा- नहीं मानी मांगे तो इस्लाम करेंगे कबूल


नोएडा में लगातार सफाई कर्मचारी धरने पर बैठे हुए हैं. अपनी मांगों को पूरी करवाने के लिए उन्होंने सरकार के सामने अपनी शर्त भी रखी है. लेकिन मांगों को पूरा होते हुए न देख अब सैकड़ों सफाई कर्मचारी भड़क गए हैं. उन्होंने सरकार को अब खुलेआम धमकी दी है कि यदि उनकी मांगों को नहीं माना गया तो वो लोग इस्लाम धर्म को कबूल कर लेंगे. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बीते कई दिनों से सफाई कर्मचारी कुछ अलग-अलग मांगों को लेकर हड़ताल पर बैठे हैं. इसी बीच नोएडा प्राधिकरण से जुड़े सफाई कर्मचारियों ने बुद्धवार को नोएडा सेक्टर 6 स्थित प्राधिकरण के दफ्तर को घेरते हुए जोरदार प्रदर्शन किया है.

दरअसल संविदा पर कार्यरत सारे सफाई कर्मचारियों ने मांग को लेकर अब सख्ती दिखाई है. उन्होंने धमकी दी है कि यदि ऐसे ही उनकी मांग को लेकर ढिलाई बरती गई तो वो आने वाले अक्टूबर महीने की पहली तारीख को ही अपना धर्म परिवर्तन कर लेंगे और इस्लाम को अपना लेंगे. कर्मचारियों ने साफ शब्दों में स्पष्ट किया है कि यदि उनका ऐसे ही शोषण होता रहा और उनकी मांग को स्वीकार नहीं किया गया तो वो 1 अक्टूबर को अपना धर्म परिवर्तन करने का ऐलान कर देंगे. इस बारे में बात करते हुए अखिल भारतीय मजदूर महासंघ के जिला महा मंत्री सतवीर मकवाना ने कहा कि, नोएडा प्राधिकरण में तकरीबन 5000 सफाई कर्मचारी हैं जो बीते 30 सालों से लगातार काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि वैसे तो देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वाल्मीकि समाज को सम्मान देते थकते नहीं हैं. लेकिन नोएडा में वाल्मीकि समाज का बुरी तरह से शोषण किया जा रहा है.

इतना ही नहीं सतवीर की ओर से ये आरोप लगाया गया है कि, नोएडा प्राधिकरण में काम करने वाले सफाई कर्मियों की तरफ से रखी गई न मांग को पूरा किया जा रहा है, और न ही प्राधिकरण के अधिकारियों की ओर से उनका शोषण करना बंद हो रहा है. इस दौरान उन्होंने ये भी बताया कि काफी लंबे वक्त से सफाईकर्मी वेतन बढ़ोतरी, पीएफ समेत कई जरूरी सुविधाओं को लेकर नोएडा प्राधिकरण से ठेकेदारी से जुड़ी चली आ रही प्रथा को समाप्त करने की मांग कर रहे हैं और स्थायी तैनाती की बात रखी है. यहां तक कि सतवीर मकवाना ने ये भी कहा है कि कोरोना सफाई कर्मियों को जीने तक नहीं दे रही है. इसलिए धरने पर बैठे कर्मचारियों ने सीधा कड़े शब्दों में धर्म परिवर्तन करने की घोषणा की है. क्योंकि इस बार वो आर-पार की लड़ाई करने को लेकर पूरी तरह से तैयार हैं.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment