कभी केबीसी में एक करोड़ जीतने वाले रवि आज बन चुके हैं बड़े अधिकारी, इस शहर में है पोस्टिंग - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

16 September 2020

कभी केबीसी में एक करोड़ जीतने वाले रवि आज बन चुके हैं बड़े अधिकारी, इस शहर में है पोस्टिंग

 

kbc ravi

नई दिल्ली। कई लोगों को फर्श से अर्श तक पहुंचा चुका टीवी शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ से तो हर कोई वाकिफ ही होगा। इसके कुछ कंटेस्टेंट के नाम भी लोगों के जहन में होंगे, जिन्होंने शो के सभी सवालों का जवाब देकर करोड़ों की रकम जीती और और अपनी कबिलियत का झंडा गड़ा था। ऐसा ही एक नाम है रवि मोहन सैनी का, जिन्होंने महज 14 साल की उम्र में केबीसी से एक करोड़ की रकम जीती थी। जूनियर केबीसी में अमिताभ बच्चन के सभी सवालों के सही जवाब देकर एक करोड़ की राशि जीतने वाले रवि सैनी आज आईपीएस बन चुके हैं।

kbc raviसैनी ने जब इस शो में भाग लिया था उनकी उम्र मात्र 14 साल की थी। रवि मोहन ने 2001 में केबीसी के स्पेशल संस्करण केबीसी जूनियर में भाग लिया था और एक के बाद एक सवालों के सही जवाब देते हुए एक करोड़ की इनामी राशि अपने नाम कर ली थी। हालंकि यह राशि उन्हें केबीसी के नियमों जे मुताबिक उनके 18 साल पूरा होने के बाद दी गयी थी।

kbc raviरवि ने वर्ष 2014 में यूपी एससी की परीक्षा पास की और गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी बने। इससे पहले वह राजकोट सिटी में डीसीपी के पद पर तैनात थे। राजस्थान के अलवर जिले के रहने वाले रवि अब 33 वर्ष के हो चुके हैं। वह कहते हैं कि उनके पिता नेवी में थे और उनकी शुरूआती पढ़ाई विशाखापत्तनम के नेवल पब्लिक स्कूल से हुई है।

kbc raviउन्होंने जयपुर के महात्मा गांधी मेडिकल कालेज से एमबीबीएस किया था लेकिन तभी इंटर्नशिप के दौरान उनका चयन सिविल सर्विस में हो गया। चूंकि पिता नेवी में थे, इसलिए उनसे प्रभावित होकर उन्‍होंने डॉक्‍टर बनने की जगह आईपीएस को अपना करियर बना लिया। सैनी का चयन 2014 में हुआ था । रवि सभी छात्रों को लगन की सीख देते हैं। उनका मानना है कि मेहनत हो और मजबूत इरादें हों तोकोई भी काम नामुमकिन नहीं होता।

 आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment