गोरखपुर सेमिनार में बरसे योगी, मोदी सरकार को बताया ‘रामराज’ विपक्ष को कहा ‘रावण’ - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

01 September 2020

गोरखपुर सेमिनार में बरसे योगी, मोदी सरकार को बताया ‘रामराज’ विपक्ष को कहा ‘रावण’


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर विपक्ष पर निशाना साधा है, दरअसल योगी गोरखपुर के एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंचे थे। इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी विपक्ष पर हमलावर दिखे। उन्होंने कहा कि आज विपक्ष की मानसिकता नकारात्मक सोच से भरी पड़ी है। इसे बदलने की आवश्यकता है। एक और जहां केंद्र सरकार के नेतृत्व में कार्य योजनाओं को आगे बढ़ाया जा रहा है, वह पिछले 70 साल के इतिहास में आज तक नहीं हो पाया। योगी ने कहा कि क्या कारण था आज तक राम मंदिर के दरवाजे नहीं खोले गए? चाहे वह मुस्लिम महिलाओं को उनका अधिकार दिलाना हो। कश्मीर से 370 हटाना हो, यह सब एक सकारात्मक व्यक्ति और उसकी सोच पर निर्भर करता है। जो मुझे मोदी जी में नजर आते हैं। इतना ही नहीं सीएम योगी ने मोदी सरकार की तुलना ही ‘रामराज’ से कर दी। सीएम ने कहा कि उनके गुरु महंत अवैद्यनाथ और दादा गुरु महंत दिग्विजयनाथ की इच्छा थी की अयोध्या में भव्य राममंदिर का निर्माण हो. लेकिन इतने वर्षों के बाद मोदी सरकार के नेतृत्व में अब उनका सपना पूरा हो रहा है।

योगी ने कहा जब अयोध्या में भव्य श्रीराम मंदिर निर्माण के कार्य का शुभारम्भ किया जाता है तो यह एक नए युग का शुभारम्भ भी है। सीएम योगी बोले दो धाराएं चलती हैं, जिनमें एक सकारात्मक सोची होती है, जिसमें लोक कल्याण है वो राम की धारा है, जहां पर सबका साथ सबका विकास का भाव है। यही तो रामराज की अवधारणा है। स्वार्थ नहीं परमार्थ का भाव का है। सीएम ने कहा कि इसी कार्य का शुभारम्भ आज से 6 साल पहले 26 मई 2014 को हुआ था, जब इस देश में मोदी जी के नेतृत्व में सरकार का गठन हुआ. सरकार ने अपने कार्यक्रर्मों को भी उसी भाव के साथ रखा, जिसमें न जाति थी न क्षेत्र न भाषा न मत न मजहब. आजादी के बाद जो राजनीति चल रही थी वो सत्ता केंद्रित और जाति पर आधारित थी।

सीएम ने कहा कि आज पूरा देश मोदी जी के नेतृत्व में आगे बढ़ रहा है, लेकिन विपक्ष को हर काम में नुक्स निकालने की आदत बन गई है। गरीब को मकान मिल गया तो उन्हें परेशानी है, कानून व्यवस्था पर जोर दें तो दिक्कत है। सीएम ने कहा यही नकारात्मक सोच है, यही रावणी सोच है जो इंसान की मानसिकता को दर्शाता है, केवल स्वार्थ की बात करता है. सीएम ने कहा कि मैं और मेरे से बाहर नहीं जा सकता है. यही एक व्यापक परिवर्तन आज देश के अन्दर आया है। मालूम हो कि गोरखपुर के गोरक्षनाथ मंदिर में आयोजित सेमिनार में बोलते हुए सीएम योगी ने यह बातें कही हैं।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment