जमानत अर्जी में रिया ने कहा, झूठे केस में फंसाया गया, विशेष अदालत आज सुनाएगी जमानत पर फैसला - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

10 September 2020

जमानत अर्जी में रिया ने कहा, झूठे केस में फंसाया गया, विशेष अदालत आज सुनाएगी जमानत पर फैसला

Rhea-Chakraborty

सुशांत सिंह राजपूत मौत केस में आये ड्रग कनेक्शन में गिरफ्तार अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती ने मुंबई की अदालत में जमानत याचिका दायर की। जमानत याचिका में रिया ने आरोप लगाया कि हिरासत के दौरान उन्हें बयान देने के लिए मजबूर किया गया। वह निर्दोष हैं और उन्हें फंसाया गया है। रिया सुशांत की प्रेमिका हैं और उन्हें मंगलवार को ड्रग्स एंगल में नार्कोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया है। रिया और उनके भाई शौविक की जमानत याचिकाओं पर एक विशेष अदालत आज सुनवाई करेगी। अदालत में दी गयी 20 पेज की जमानत अर्जी में रिया ने कहा-‘ वह निर्दोष है, उसने कोई अपराध नहीं है। आवेदक को झूठे मामलों में फंसाया गया है। जमानत अर्जी में कहा गया है कि रिया ने ने कोई ड्रग या साइकोट्रॉपिक पदार्थ के इस्तेमाल नहीं किया है। इसके साथ ही कम मात्रा में ड्रग से संबंधित मामले में जमानत दिए जाने की बात कही है।

रिया की तरफ से दायर की गयी जमानत याचिका में कहा गया है-‘वर्तमान में आवेदक के खिलाफ लगये गये आरोपों में काफी कम मात्रा में ड्रग खरीद का मामला बनता होगा और यह एक जमानती अपराध है, इसलिए आवेदक को जमानत मिलनी चाहिए। कम मात्रा में ड्रग्स खरीदना कोई बड़ा मामला नहीं बनता है। एक्ट्रेस ने जमानत याचिका में दावा किया है कि उन्हें हिरासत में लेने के बाद आत्म दोषारोपण बयान देने के लिए मजबूर किया गया था। याचिका में कहा गया है कि आठ सितंबर, 2020 को उनके आवेदन में, आवेदक ने औपचारिक रूप से इस तरह के सभी भ्रामक बयानों को वापस ले लिया है।

कोरोना वायरस का भी दिया गया हवाला 

याचिका में यह भी कहा गया है कि ‘आवेदक यानी रिया चक्रवर्ती को उत्तरदाताओं द्वारा एनसीबी के कार्यालय बुलाया गया था और वहां छह, सात और आठ सितंबर 2020 को लंबी पूछताछ की गई थी और उन पर आत्म दोषारोपण बयान देने के लिए दबाव बनाया गया। इस दौरान आवेदक तक किसी भी कानूनी सलाह की कोई पहुंच नहीं थी। याचिका में यह भी कहा गया है कि पूछताछ के दौरान कोई महिला अधिकारी नहीं थी जबकि कई पुरुष अधिकारी थे। जमानत याचिका में रिया ने कहा है कि उसने इस मामले में अधिकारियों को पूरा सपोर्ट किया है। रिया ने कहा है कि अगर उसे न्यायिक हिरासत में रखा जाता है तो उसके जीवन के लिए गंभीर खतरा है। जमानत लेने के कारणों में कोरोना वायरस महामारी का भी हवाला दिया गया है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment