फाइब्रॉइड (बच्चेदानी) यूट्रस में गाँठ की शंका का ऐसे करें समाधान - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

14 September 2020

फाइब्रॉइड (बच्चेदानी) यूट्रस में गाँठ की शंका का ऐसे करें समाधान


30 साल के बाद शारीरिक बदलाव तेज़ी के साथ होने लगते हैं। उनमें कई तरह की दिक्कतें आती हैं। इसी क्रम में थोड़ा आगे चलने पर महिलाओं में एक उम्र के बाद यूट्रस की कई सारी समस्याएँ आने लगती हैं। इन बीमारियों में से एक है फाइब्रॉइड। फाइब्रॉइड को आम बोलचाल की भाषा में बच्चेदानी की गाँठ भी कहते हैं। आपको बता दें कि यह गाँठ आकार में मूँगफली के दाने से लेकर एक आम के जितनी भी हो सकता है। आइए जानते हैं शरीर होने वाले उन लक्षणों के बारे में जिससे हमें फाइब्रॉइड के संकेत मिलते रहते हैं।

नियमित क़ब्ज़
आपको यह जानकर आश्चर्य हो सकता है कि लम्बे समय तक लगातार क़ब्ज़ बना रहना यूट्रस के लिए बहुत ही ख़तरनाक होता है। आपको बता दें कि यह फाइब्रॉइड हो सकता हैं। जी हाँ, इसलिए इससे बचने के लिए सुपाच्य भोजन लें और पूरी नींद सोया करें।
नाभि के नीचे दर्द
यदि आपकी नाभि के नीचे पेट में लगातार दर्द बना रहता है तो यह यूट्रस की समस्या हो सकती है। आपको बता दें कि कभी-कभी इसकी पीड़ा असहनीय हो जाये तो ये फाइब्रॉइड का भी संकेत हो सकता है।
पीठ के नीचे दर्द
पीठ के निचले हिस्से में दर्द का होना महिलाओं में यूट्रस की समस्याओं का संकेत है। ग़ौरतलब है कि थकान और चोट के दर्द से अलग पीठ के निचले हिस्से में दर्द हो तो ये इशारा फाइब्रॉइड की ओर होता है। इसलिए इसका ध्यान देते रहना चाहिए।
पीरियड्स का लगातार होना
यदि किसी महिला को लंबे वक्त तक पीरियड चलते रहते हों तो यह भी फाइब्रॉइड हो सकता हैं। वैसे हॉर्मोनल बदलाव भी इसकी एक वजह हो सकते हैं लेकिन इस लक्षण को अनदेखा ना करें तो ही बेहतर है, क्योंकि यूट्रस की कोई भी समस्या काफी घातक सिद्ध हो सकती है।
आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment