माफिया मुख्तार के बाद अब अफजाल अंसारी का ध्वस्त होगा किला! जानें क्या है वजह - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

17 September 2020

माफिया मुख्तार के बाद अब अफजाल अंसारी का ध्वस्त होगा किला! जानें क्या है वजह

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के गाजीपुर लोकसभा सीट से बहुजन सामज पार्टी (बसपा) के सांसद और बहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के भाई अफजाल अंसारी के ऊपर भी योगी सरकार ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। दरसअल अफजाल अंसारी का मकान उनके भाई मुख्तार अंसारी के मकान की तरह गाटा संख्या 93 पर ही बना है, जो शत्रु सम्पत्ति है। क्योंकि लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) की तरफ से लखनऊ जिला प्रशासन को भेजी गई चिट्ठी के बाद इस मकान की दोबारा पैमाइश कराई गई, जिसमें यह पाया गया कि अफजाल का भी मकान शत्रु संपत्ति पर बना है। जिसके बाद जिला प्रशासन की तरफ से एलडीए को चिट्ठी का जवाब भेज दिया गया। इसके बाद ये बात साफ हो गई सांसद अफजल अंसारी के मकान पर भी कार्रवाई की जाएगी यह तय माना जा रहा है।  क्योंकि शत्रु सम्पत्ति को सरकारी संपत्ति है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसी तरह की जमीन बहुबली विधायक मुख्तार अंसारी का भी मकान बना थी जिसे एलडीए ने ध्वस्त कर दिया था। वहीं एलडीए में अब इस मामले की सुनवाई आने 21 सितम्बर को होनी है। एलडीए के मुताबिक बीते 31 अगस्त को इस मकान के मकान के स्वामी फरहत अन्सारी, पत्नी अफजाल अंसारी को नोटिस भेजा गया। जिसके जवाब में बीते 14 सितम्बर को फरहत अंसारी की ओर से नोटिस का जवाद देते हुए कहा गया था कि उनका भवन खसरा संख्या 104 में स्थित है। इसी आधार पर एलडीए ने उप जिलाधिकारी सदर से जवाब मांगा।

जिसके बाद जिला प्रशासन ने इस मकान की दोबारा पैमाइश कर सैटेलाइट के नक्शे से सॉफ्टवेयर के जरिए मिलान कराया। उसमें भी पाया गया कि जियामऊ डालीबाग स्थित भवन संख्या 21/14 बी गाटा संख्या 93 पर ही स्थित है। यह निष्क्रांत सम्पत्ति है। यह वो सम्पत्ति है जो बंटवारे के समय पाकिस्तान जा बसे लोगों की थी। इसकी मलकियत अब सरकार की है। एसडीएम सदर सूर्यकांत त्रिपाठी ने बताया कि एलडीए को जवाब भेज दिया गया है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment