यूपी में प्रधानमंत्री आवास योजना में हुआ बड़ा घोटाला, हजारों अपात्रों को मिला घर - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

16 September 2020

यूपी में प्रधानमंत्री आवास योजना में हुआ बड़ा घोटाला, हजारों अपात्रों को मिला घर

 

कन्नौज। प्रधानमंत्री आवास योजना में उस समय बड़ा घोटाला सामने आया है जब उत्तर प्रदेश के कन्नौज जनपद में सत्यापन का कार्य किया जा रहा था। पीएम आवास योजना के सत्यापन के दौरान करीब 10 हजार आवास अपात्र निकले हैं। इसके अलावा अभी और भी सर्वे और सत्यापन का काम जारी है। ऐसे में अपात्रों लोगों की संख्या में अभी और भी बृद्धि होने की संभावना है। ऐसे जो अपात्र लोग है उन सबके नाम सूची से हटाए जा रहे हैं। इसकी जिम्मेदारी पीडी डीआरडीए निभा रहे हैं। जैसे-जैसे सर्वे के दौरान सत्यापन कार्य आगे बढ़ रहा है, वैसे-वैसे इस योजना के तहत मिले अपात्रों को आवास आवंटन की सच्चाई भी सामने आ रही है। मामले की जांच के लिए जिला स्तरीय विभागों के 40 अधिकारी मॉनीटरिंग के लिए लगाए गए हैं। इन अधिकारियों को  कई-कई ग्राम पंचायतों की जिम्मेदारी दी गई है।

ग्राम पंचायत अधिकारी और ग्राम विकास अधिकारी के लाभार्थियों का सत्यापन कर अपात्रता की जांच करनी है। पीडी डीआरडीए सुशील सिंह ने कहा कि करीब 50 हजार लोगों ने करीब दो साल पहले आवेदन किया था। उनकी जांच और सत्यापन का काम चल रहा है। अब तक करीब 10 हजार अपात्र निकल चुके हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बीते मंगलवार तक 188 नाम सूची से ऑनलाइन हटा भी दिए गए हैं। जांच के दौरान ब्लॉक तालग्राम क्षेत्र की हसीना बेगम का पहले से ही कमरा और बरामदा बना मिला। प्रेमलता का पक्का मकान खड़ा है। ब्लॉक तालग्राम क्षेत्र से करीब 6 हजार आवेदन हुए थे। आवास के लिए 1133 अपात्र निकले हैं।

पीडी डीआरडीए सुशील कुमार सिंह ने बताया कि कन्नौज जिले में दो साल पहले मोबाइल ऐप सर्वे हुआ था। उसका वेरीफिकेशन चल रहा है। पात्र और अपात्र देखे जा रहे हैं। ग्राम पंचायतों के सचिव की ओर से इसकी सूची पीडीएफ के माध्यम से ऑनलाइन लोड की गई है। उसे देखकर कार्रवाई की जा रही है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 1.20 लाख रुपए दिया जाता है। साथ ही 90 दिन की करीब 18 हजार रुपए मनरेगा मजदूरी भी मिलती है। न होने पर 12 हजार रुपए का शौचालय भी एसबीएस ग्रामीण के तहत लाभार्थी को मिलता है। कुल डेढ़ लाख रुपए तीन तरह की योजनाओं पर मिलता है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment