सुशांत के डॉक्‍टर हरीश शेट्टी आए सामने, एक्‍टर की मानसिक स्थिति के बारे में बताया - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

03 September 2020

सुशांत के डॉक्‍टर हरीश शेट्टी आए सामने, एक्‍टर की मानसिक स्थिति के बारे में बताया

 

सुशांत के डॉक्‍टर हरीश शेट्टी आए सामने, एक्‍टर की मानसिक स्थिति के बारे में बताया

सुशांत सिंह राजपूत मामले में परिवार और अंकिता लोखंडे की ओर से लगातार सुशांत को लेकर दावा किया जा रहा था कि वो एकदम ठीक हैं, उन्‍हें कोई मानसिक परेशानी नहीं थी । उन्‍हें ये समस्‍या 2019 के बाद शुरू हुई, वो भी तब जब रिया उनकी जिंदगी में आ गई थीं । लेकिन अब इस मामले में सुशांत की तीनों बहनों के बयान सामने आए हैं, 14 से 16 जून के बीच ये बयान मुंबई पुलिस को दिए गए थे । जिसमें तीनों बहनों ने माना है कि सुशांत ने 2014 में मानसिक रूप से ठीक ना होने की बात कही थी ओर दवा भी ली थी । बहनों ने ये भी कहा कि सुशांत मुंबई में 2019 से अपना इलाज करवा रहे थे । जिस डॉक्‍टर से सुशांत 6 साल पहले मिले थे, वो अब सामने आए हैं ।

डॉक्‍टर हरीश शेट्टी ने बताया सच
सुशांत के बारे में डॉ. शेट्टी ने बताया कि वे 2014 में एक्‍टर से केवल एक बार मिले थे । सुशांत को उस समय नींद नहीं आने की समस्या थी, जिसका इलाज कराने वे मेरे क्लिनिक में आए थे । सूत्रों के मुताबिक, मुंबई पुलिस को दिए बयान में डॉ. शेट्टी ने बताया कि, ‘2014 में सुशांत सिंह राजपूत मेरे अंधेरी वाले क्लीनिक में मिलने आए थे । वे बिना कोई अपॉइंटमेंट लिए ही आए थे. उस समय क्लीनिक पर बहुत भीड़-भाड़ थी इसलिए सुशांत अपनी बीमारी के बारे में ज्यादा विस्तार से नहीं बता पाए थे ।

दोबारा आने को कहा था
डॉक्‍्टर ने आगे बताया कि उन्होंने और डिटेल की जरूरत पड़ने पर दोबारा आने की बात कही थी । डॉक्‍टर शेट्टी ने कहा कि नींद नहीं आने की समस्या के लिए मैंने उनकी जांच की । उस समय उनके में कोई और समस्या नहीं दिखी । अच्छी नींद के लिए मैंने उन्हें दवाइयां लिखीं और सुशांत को अगली बार आने के लिए अपॉइंटमेंट दे दिया।’ डॉक्‍टर शेट्टी ने बताया कि  ‘सुशांत इलाज के लिए दोबारा आए ही नहीं।‘

मरीज के इलाज का पैमाना
डॉक्‍टर ने बताया कि वो किसी भी मरीज की मानसिकSushant स्थिति को जानने के लिए मरीज को देखते समय कुछ सवाल पूछते हैं । मैं मरीज से पूछता हूं कि उनके मन में किसी तरह का सुसाइडल विचार तो नहीं आ रहे । किसी से डर लग रहा है या फिर किसी चीज का फोबिया हो । नींद अच्छी आ रही है या नहीं और भूख खुलकर लग रही है या नहीं? इस सवालों के जवाब के बाद ही मैं दवाएं प्रेस्क्राइब करता हूं । पेशेंट को नियमित चेकअप कराने को कहता हूं. जरूरत पड़ने पर मैं मरीज को दूसरे साइकैट्रिस्ट से इलाज कराने की भी सलाह देता हूं। डॉक्‍टर के अनुसार चूंकि सुशांत दोबारा नहीं आए इस वजह से वो इस मामले में बाद में क्‍या हुआ नहीं जानते । सुशांत को तब बस नींद नहीं आ रही थी । आपको बता दें, सुशांत की इस मेंटल कंडीशन के बारे में रिया चक्रवर्ती ने इंटरव्‍यू में बताया था ।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment