कंगना के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देकर फंसे संजय राउत, एक्ट्रेस के सपोर्ट में उतरीं दीया मिर्जा ने रखी ये मांग - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

06 September 2020

कंगना के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देकर फंसे संजय राउत, एक्ट्रेस के सपोर्ट में उतरीं दीया मिर्जा ने रखी ये मांग


सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद इन दिनों फिल्म इंडस्ट्री में जैसे भूचाल आ गया है. अचानक से आए ड्रग एंगल के बाद राजनीति भी गरम हो गई है. इस बीच कंगना रनौत और शिवसेना नेता संजय राउत के बीच लगातार जुबानी जंग तेज होती जा रही है. हाल ही में कंगना रनौत ने एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने मुंबई से खुद असुरक्षित बताया था. इसके साथ ही उन्होंने मुंबई की तुला POK से भी की थी. इसे बाद से लगातार विवाद बढ़ता जा रहा है. एक-दूसरे पर वार पलटवार का सिलसिला जारी है. इसी बीच कंगना ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से एक ट्वीट करते हुए ये बताया है कि उनके लिए संजय राउत ने ‘आपत्तिजनक’ शब्दों का इस्तेमाल किया है. इसी बात को लेकर अब एक्ट्रेस के समर्थन में दीया मिर्जा भी आ गई हैं.

दरअसल एक्ट्रेस दीया मिर्जा ने संजय राउत के बयान को लेकर आपत्ति जताई है. इतना ही नहीं बल्कि संजय राउत द्वारा कंगना को ‘हरामखोर लड़की’ कहने वाले शब्द को लेकर भी कई सवाल उठाए हैं. बता दें कि सांसद की तरफ से दिए गए इस बयान को लेकर दीया ने बकायदा अपने ट्विटर हैंडल से एक ट्वीट भी किया है.

उन्होंने अपने इस ट्वीट में लिखा है कि, ‘सर, आपके पास कंगना के कहे शब्दों को लेकर गुस्सा जाहिर करने का पूरा हक है, लेकिन इस तरह के शब्द इस्तेमाल किए जाने के मैं सख्त खिलाफ हूं. इस तरह के शब्दों के इस्तेमाल के लिए आपको माफी मांगनी चाहिए.’

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कंगना रनौत ने एक ट्वीट करते हुए सोशल मीडिया के जरिए लोगों को बताया था कि कैसे संजय राउत ने उन पर आपत्तिजनक टिप्पणी की है. दरअसल कंगना पर गुस्सा निकालते हुए सांसद साहब अपने शब्दों की सारी मर्यादा ही लांघ गए हैं. जिसकी जानकारी देते हुए कंगना ने ट्वीट किया था कि, ‘साल 2008 की बात है जब मूवी माफियाओं ने मुझे ‘पागल’ करार दिया था. इसके बाद 2016 आया जब मुझे ‘विच’ और ‘स्टॉकर’ जैसा नाम दिया गया. और तो और अब साल 2020 में महाराष्ट्र के मंत्री ने मुझे खुलेआम ‘अपमानजनक’ टाइटल दिया है, क्योंकि मैंने कहा कि एक हत्या के बाद मैं मुंबई में असुरक्षित महसूस कर रही हूं, अब असहिष्णुता पर बहस करने वाले योद्धा कहां हैं?’

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment