मोदी सरकार को गिराने की फिराक में कांग्रेस, भाजपा ने राहुल गांधी से कहा— सार्वजनिक करें डिटेल्स - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

06 September 2020

मोदी सरकार को गिराने की फिराक में कांग्रेस, भाजपा ने राहुल गांधी से कहा— सार्वजनिक करें डिटेल्स

 

भारत में भाजपा के बाद दूसरे नंबर की पार्टी कांग्रेस अपनी हरकतों व बयानों के चलते दुश्मन देशों में अलग पैठ बना रही है। इसी के चलते दुश्मन देश कांग्रेस नेताओं के बयानों को आधार बनाकर भारत सरकार को घेरने का प्रयास करते रहते हैं। कांग्रेस पार्टी के हाल की हरकतों पर नजर दौड़ाएं तो यही लगता है कि पार्टी के लिए देश से ज्यादा सत्ता जरूरी है। कांग्रेस लगातार भाजपा सरकार को अस्थिर करने की कोशिश करती रहती है। इसी क्रम में चीन के सरकारी मुखपत्र ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने कांग्रेस को लेकर ट्वीट करते हुए मोदी सरकार को घेरा है। इसी के जवाब में भाजपा ने भी गांधी परिवार पर सीधे निशाना साधा है। भाजपा ने चीन को दुश्मन देश बताते हुए कहा कि अब वह भारत को घेरने के लिए कांग्रेस पार्टी का सहारा ले रहा है।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने तंज कसते हुए कहा कि जिस तरह से इश्क और मुश्क छिपाने से भी नहीं छिपते, ठीक उसी तरह कांग्रेस और चीन के बीच पक रही खिचड़ी सबको पता है। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी और भारत की कांग्रेस पार्टी के बीच गुप्त समझौते हुए हैं, जिसकी जानकारी सार्वजनिक की जानी चाहिए। ग्लोबल टाइम्स ने अपनी प्रकाशित रिपोर्ट में विशेषज्ञों के हवाले से दावा किया था कि भारत में कांग्रेस, मोदी सरकार के खिलाफ मुखर है।

कम्युनिस्ट पार्टी के मुखपत्र ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है कि चीन के साथ सीमा विवाद पर पीएम मोदी और भाजपा काफी दबाव में हैं क्योंकि कांग्रेस पार्टी विफल घरेलू शासन और जोखिम भरी विदेश नीति को लेकर भाजपा सरकार को हिलाने के मौके की ताक में है। ग्लोबल टाइम्स के इस ट्वीट के बाद भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस पर चीनी एजेंडे के तौर पर काम करने का आरोप लगाते हुए कहा, अखबार की यह तारीफ सामान्य बात नहीं है। उन्होंने कहा कि चीन के हमलों को नाकाम करते हुए भारत ने उसकी विस्तारवादी नीति को तगड़ा जवाब दिया है। चीन की हताश सरकार अब भारत की कांग्रेस पार्टी से उम्मीद नजर आ रही है, जिससे उसका एजेंडा चलता रहे। उन्होंने कहा कि वर्ष 2008 में चीन की कम्युनिस्ट पार्टी और कांग्रेस ने एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए थे, इसीलिए दोनों के बीच का प्रेम सबको पता है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment