OMG! चाय की प्याली की तरह कोबरा का खून पी रही हैं लड़कियां, लेकिन क्यों? - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

31 August 2020

OMG! चाय की प्याली की तरह कोबरा का खून पी रही हैं लड़कियां, लेकिन क्यों?

“सांप का डसा पानी तक नहीं मांगता” ये कहावत बचपन से आप सुनते आए होंगे। सांप... का नाम सुनते ही रूह दहशत से कांप उठती है। आपकी हंसती-खेलती जिंदगी को खत्म करने के लिए सांप का एक वार ही काफी है, इस वजह से लोग दूर से ही सांप को देखकर अपना रास्ता बदल लेते हैं। लेकिन आज हम आपको सांप से जुड़ी ऐसी जानकारी देने जा रहे हैं, जिसको जानकर आपके होश उड़ जाएंगे।

यूं तो हर कोईं सांप को देखकर अपना रास्ता बदल लेता है, लेकिन दुनिया में एक जगह ऐसी भी है जहां सांप इंसानों को देखकर रास्ता बदलना चाहता है। ये जगह है इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता की। यहां लड़कियां चाय-कॉफी व अन्य किसी ड्रिंक की तरह जहरीले सांप का खून पीती हैं। ये सांप कोई ऐसा वैसा सांप नहीं बल्कि कोबरा है।
यहां के ज्यादातर क्षेत्रों में कोबरा का खून निकालकर उसे पीने के लिए बेचा जाता है। यहां के लोग घूमते-फिरते स्नैक के रूप में कोबरा का खून पीते हैं।
यहां रोजाना कोबरा के खून के लिए हजारों सांपो को काटा जाता है, जिसके चलते सांपो की डिमांड बढ़ती जा रही है।
गौरतलब है कि यहां कोबरा का खून बेचने वाली दुकान केवल शाम को ही खुलती हैं। शाम को 5 बजे से लेकर रात 1 बजे तक ये दुकाने खुली रही रहती है और लोग यहां कोबरा के खून का आनंद लेते हैं।
लेकिन क्यों पी रहे हैं लोग कोबरा का खून?
अगर वजह की बात करें, तो महिला और पुरुष दोनों के ही अपने अलग-अलग कारण है। पुरुष कोबरा का खूब सेहत को दुरुस्त करने के लिए पीते हैं वही महिलाओं की बात करें तो महिलाएं खूबसूरती के कारण इसका पान करती हैं। कहा जाता है कि कोबरा का खून स्किन को ग्लोइंग बनाता है।
बरती जाती है ये सावधानी-
कोबरा का खून पीने के बाद लोगों को कुछ सावधानियां बरतनी पड़ती है। जैसे कहा जाता है कि खून पीने के बाद 3 से 4 घंटे चाय-कॉफी का बिल्कुल भी सेवन न किया जाए। खुद दुकानदार ग्राहकों को ये सलाह देते हैं।
हालांकि, कोबरा के खून से सच में खूबसूरती बढ़ती है या ये सिर्फ भ्रम है, इसकी पुष्टी हम नहीं कर रहे।
आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment