बिहार DGP ने कहा-दाल में कुछ काला, सुशांत केस में जिन लोगों को आरोपी बनाया वो भागे फिर रहे - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

02 August 2020

बिहार DGP ने कहा-दाल में कुछ काला, सुशांत केस में जिन लोगों को आरोपी बनाया वो भागे फिर रहे

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत को आज पूरा डेढ़ महीना से ऊपर हो चुका है, लेकिन मुंबई पुलिस जांच के नाम पर सिर्फ खानापूर्ती कर रही है. वहीं इस मामले में सुशांत सिंह के पिता केके सिंह ने मुंबई पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं, उन्होंने कहा- ‘पता नहीं मेरे बेटे को कब न्याय मिलेगा, इसके साथ ही केके सिंह ने बिहार के पटना राजीव नगर थाने में सुशांत सिंह की कथित गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती के खिलाफ 4 पन्नों की FIR दर्ज कराई है, जिसको गंभीरता से लेते हुए बिहार पुलिस के चार जवानों को मुंबई के लिए रवाना किया गया है. अब यहां सबसे बड़ी परेशानी बिहार पुलिस के लिए यह खड़ी हो रही है कि मुंबई पुलिस जांच में सहयोग नहीं कर रही, और तो और बीते दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि, किस तरह से मुंबई पुलिस बिहार पुलिस अधिकारियों के साथ कैदी जैसा सलूक किया था।
वहीं इस पूरे घटनाक्रम पर बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय ने मीडिया इंटरव्यू में बताया कि कुछ दिन पहले शाम को हमारी टीम की वहां के DCP से अच्छी बात हुई है. वहीं सुशांत सिंह के केस को लेकर अभियुक्त पक्ष के लोग सुप्रीम कोर्ट गए है. हालांकि हमें पूरी उम्मीद है कि जिस दिन हम लोगों को कोई सबूत हाथ लगा तो अपराधी को सलाखों के पीछे जाने में बिल्कुल भी देर नहीं लगेगी. चाहे वो कोई भी हो, उस दिन सत्य की जीत होगी।
सुशांत मिस्ट्री पर बोलते हुए डीजीपी ने कहा कि बिहार मुख्यमंत्री जी का भी संकल्प है कि इस पूरे मामले की सच्चाई सामने आनी चाहिए, बिहार पुलिस सक्षम है अनुसंधान करने के लिए अगर सुशांत के परिवार वालों को लगता है बिहार पुलिस अच्छे तरीके से अनुसंधान नहीं कर सकती तो CBI से जांच कराने को लेकर आवेदन दें. हम लोग सरकार के पास उस आवेदन को भेज देंगे।
सुशांत मामले में जांच को आगे बढ़ाने के लिए पटना पुलिस मुंबई पुलिस से कई प्रकार के कागजात और सीसीटीवी फुटेज की मांग कर रही है जो उन्हें अब तक प्राप्त नहीं हुआ है. जो अभियुक्त बनाए गए हैं वो भागे-भागे फिर रहे हैं, इसलिए ऐसा लगता है कि दाल में कुछ काला है. सुशांत का जाना इतना आसान नहीं है. हम लोग इतनी आसानी से इस केस को
जाने नहीं देंगे. इस मामले में चाहे जितने लोग हों जो भी लोग हों, उन्हें सलाखों के पीछे पहुंचा कर रहेंगे. बता दें कि अब तक इस पूरे मामले में 40-50 लोगों से मुंबई पुलिस ने पूछताछ की है लेकिन पारदर्शिता यहां भी नहीं है।
आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment