रिया के समर्थन में उतरीं हिना खान, सुशांत को लेकर एक्ट्रेस पर लगे आरोपों का दिया ऐसा जवाब - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

31 August 2020

रिया के समर्थन में उतरीं हिना खान, सुशांत को लेकर एक्ट्रेस पर लगे आरोपों का दिया ऐसा जवाब


एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत की गुत्थी अभी भी कई रहस्यों में उलझी हुई है. जिसे सुलझाने के लिए सीबीआई लगातार अपना काम कर रही है. इस बीच सोशल मीडिया के जरिए फैंस से लेकर दर्शक, कई बड़े फिल्म स्टार्स और अब टीवी सितारे भी सुशांत के लिए न्याय की मांग कर रहे हैं. कई लोग सीधा रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) पर आरोप लगा रहे हैं तो कई लोग अपनी प्रतिक्रिया देते हुए न्याय पर भरोसा जताने के लिए कह रहे हैं. कई बड़े आरोपों से घिरने के बाद अचानक से रिया चक्रवर्ती मीडिया के सामने आईं और उन्होंने अपने आपको निर्दोष बताया. इसके साथ ही उन्होंने मीडिया ट्रायल (Media Trial) को लेकर भी अपनी जमकर नाराजगी जताई.

इसी बीच अब टीवी इंडस्ट्री की मशहूर एक्ट्रेस ये रिश्ता क्या कहलाता है सीरियल से चर्चाओं में आईं हिना खान (Hina Khan) ने भी अपनी राय इस मामले पर रखी है और एक्ट्रेस रिया का समर्थन करते हुए दिखाई दे रही हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सुशांत केस पर बात करते हुए हिना खान (Hina Khan) ने न्यूज पोर्टल पर रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के मीडिया ट्रायल (Media Trial) पर भी अपना पक्ष रखा है. दरअसल हिना ने अपने दिए गए बयान में कहा है कि इस केस की छानबीन केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को ही करने देना चाहिए और उनके अंतिम नतीजे का इंतजार करना चाहिए. इतना ही नहीं हिना ने रिया का सपोर्ट करते हुए कहा कि, मैं ऐसा फील कर रही हूं कि इस मसले को लेकर लोग सीधा रिया पर आरोप थोप रहे हैं. ऐसी चीजें उनके करियर को तबाह कर सकती हैं. या फिर ये भी तो हो सकता है कि वो किसी का सामना ही न कर पाएं.

पोर्टल से हुई आगे की बातचीत में हिना खान ने कहा कि यहां पर हर इंसान सच जानने के लिए ही लड़ रहा है- ‘जस्टिस फॉर सुशांत’. लेकिन इस तरह से नहीं है. आगे उन्होंने ये भी कहा कि कई हफ्तों से लगातार, सभी न्यूज चैनल पर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बारे में ही बात हो रही है. जबकि मीडिया का एक सटीक दृष्टिकोण होना चाहिए. हालांकि मैं नहीं कहती कि इस केस को छोड़ दिया जाए या फिर इस बारे में बात न की जाए. लेकिन मीडिया एक संतुलित दृष्टिकोण रखें. क्योंकि देशभर में और भी ऐसे बहुत से मसले हैं जिन पर फोकस करने की जरूरत है जैसे असम बाढ़, कोरोना के बढ़ते मामले, घरेलू हिंसा और रेप जैसे तमाम केस हैं जिन पर बात होनी चाहिए.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment