मुख्यधारा से निराले हैं ये काम मगर करता है हर कोई, मिलता है अच्छा पैसा भी... - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

28 August 2020

मुख्यधारा से निराले हैं ये काम मगर करता है हर कोई, मिलता है अच्छा पैसा भी...


दुनिया में कोई भी काम बड़ा या फिर छोटा नहीं होता है। हर काम की अपने आप में एहमियत होती है। बता दें कि दुनिया में कोई भी ऐसा काम नहीं है जिसके ना होने से कोआई फर्क नहीं पड़ता है। मगर आपको बता दें कि आप किस चीज़ को कितनी एहमिय दे रहे हैं वो देखना जरूरी है। अक्सर इंसानों की आदत होती हर काम को कम आकने की। देखने वाल बात है कि आस पास कई लोग हैं जो मुख्यधारा में रह कर आम से काम कर रहे हैं।

मगर क्या आप जानते हैं मुख्यधारा से हटकर भी कई तरह के काम होते हैं। इसी के साथ ही इनको करना हर किसी के बस की बात नहीं होती है। आज जानिये कि डॉक्टर इंजीनियर के अलावा भी होते हैं ये आजीब काम।
बिस्तर गर्म करने वाले
जी नहीं हम सच में बिस्तर गर्म करने की बात कर रहे हैं। बता दें कि आपको अगर ऐसा लगता है कि आपका बिस्तर ठंडा हो रहा है और सर्दी भी है। इसी के साथ आपको अभी सोना है तो आप अपने लिए किसी इंसान को बुला सकते हैं। ये काम खासकर होटल में होता है। इसी के साथ ही आपका बिस्तर गर्म हो जाता है।
मानव बिजूका
इसको स्केयरक्रो कहते हैं, एक इंसान को खासतौर पर रखा जाता है जिससे वो खैतों मे से चीड़िया और कौवे भगा सके। बता दें कि इसके लिए आपको कुछ करने की जरूरत नहीं है। एक चटखीले रंग की जैकेट पहननी है। इसके साथ ही आपने लिए एक टेबल, कुर्सी और इसके साथ ही आपको एक अच्छी किताब भी लानी होती है। बता दें कि इसके बाद आपकी नौकरी पक्की हो जाएगी।
ऑस्ट्रिच बेबीसिटर
इंसानों तक तो ये बात सही लग रही थी मगर किसी जानवर और खासकर परिंदे पर तो ये बात बिल्कुल शोभा नहीं देती है। बता दें कि अक्सर कई जानवर होते हैं जो व्यव्हार काफी उत्तेजित और उग्र होते हैं। इस लिस्ट में पहले नंबर पर आते हैं शुतुरमुर्ग। इनको संभालना बहुत मुश्किल होता है। इसी वजह से इनके बच्चे जैसे बड़े हो जाते हैं तो इनको हिंसा से रोकना एक बड़ा मुश्किल का काम हो जाता है। इसीलिए शुतुरमुर्ग के बच्चे किसी हिंसा में मारे ना जाएं तो इसका ध्यान रखा जाता है। इस काम के लिए एक इंसान को नौकरी दी जाती है।
आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment