धीरू भाई अंबानी की लव स्टोरी है बेहद रोचक, पत्नी से करवाते थे ये काम - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

21 August 2020

धीरू भाई अंबानी की लव स्टोरी है बेहद रोचक, पत्नी से करवाते थे ये काम

केवल भारत में ही नहीं दुनिया के सबसे अमीर व्यक्तियों में अंबानी परिवार का नाम आता है। रिलायंस इंडस्ट्रीज की नींव धीरूभाई अंबानी ने रखी थी और उनके बारे में सभी जानते ही होंगे। मगर क्या आप उनकी पत्नी कोकिलाबेन से उनके रिश्ते कैसे थे ये जानते हैं। कहा जाता है कि कोकिलाबेन धीरूभाई के शुरुआती संघर्षों से उनके साथ रहीं। हम आपको बताने जा रहे हैं दोनों के रिश्तों से जुड़ी कुछ रोचक बातें:

कोकिलाबेन जामनगर में एक मिडिल क्लास फैमिली में पैदा हुई और शादी धीरूभाई अंबानी से 1955 में हुई। शादी के कुछ वक्त बाद धीरूभाई अदेन चले गए। उसके बाद में उन्होंने कोकिलाबेन को भी वहां बुलवा लिया। जिस समय कोकिलाबेन गुजरात के चोरवाड़ से अदेन के लिए निकली उसी समय उनके पति धीरूभाई का फोन आया। उन्होंने कोकिलाबेन से कहा, “मैंने तुम्हारे लिए गाड़ी ली है और मैं तुम्हें खुद लेने आ रहा हूं। तुम बताओ गाडी रंग क्या है ? धीरूभाई ने कहा मैं बताता हूं, इट इज़ ब्लैक लाइक मी।” एक इंटरव्यू में कोकिलाबेन ने ये बातें बताई थीं। उन्होंने बताया धीरूभाई के प्यार जताने का अंदाज़ मुझे बहुत अच्छा लगता था।

धीरूभाई जब भी कोई नया काम करते थे तो अपनी पत्नी कोकिलाबेन की सलाह अवश्य लेते थे। वो अपनी पत्नी का आदर और सम्मान करते थे। यहां तक कि वो जब भी कोई नए काम की शुरुआत करते थे तो उसका शुभारंभ अपनी पत्नी कोकिलाबेन से हीं करवाते थे। वो अपने सभी नए प्रोजेक्ट को शुरू करने से पहले अपनी पत्नी की सलाह जरूर लेते थे लेकिन कोकिलाबेन को इंग्लिश ही आती थी जिसके कारण उनको प्रोजेक्ट से जुड़ी बाते समझने में परेशानी होती थी। धीरूभाई ने इसका भी उपाय खोज निकला था। उन्होंने कोकिलाबेन को इंग्लिश सिखाने के लिए एकअंग्रेज़ी का टीचर रख लिया।

कोकिलाबेन ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि जब भी वो किसी नए शहर जाते थे तो उस शहर के बारे में पता करने के लिए उनसे कह देते थे। कोकिलाबेन ने कहा था कि जब हमने नया एयरक्राफ़्ट लिया था तब उन्होंने मेरे दोस्तों को भी बुलाने की ज़िद ठान ली थी। उनमें जरा सा भी घमंड नहीं था।

धीरूभाई अंबानी की साल 2002 को हार्ट अटैक आने उनकी से मौत हो गई। वो साल कोकिलाबेन के लिए बेहद मुश्किल भरा साल साबित हुआ। साल 2009 में धीरूभाई और कोकिलाबेन के नाम से एक हॉस्पिटल खोला। जिसमें लोगों को इलाज मुहैया कराया जा रहा है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment