विश्व के 8 सबसे खतरनाक आतंकी संगठन, जिनका नाम सुनते ही पसीने छूट जाते हैं - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

21 August 2020

विश्व के 8 सबसे खतरनाक आतंकी संगठन, जिनका नाम सुनते ही पसीने छूट जाते हैं

सबसे खतरनाक आतंकी संगठन

विश्व में कुछ खतरनाक आतंकी संगठन ऐसे हैं जिन्होंने पूरी दुनिया में दहशत फैला रखी है। ये खतरनाक आतंकी संगठन पूरी दुनिया में दहशत व आतंकवाद पैदा करने के लिए हिंसात्मक गतिविधियों का सहारा लेते रहते हैं। आज हम आपको विश्व के सबसे खतरनाक आतंकवादी संगठनों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनका नाम सुनते ही पसीने छूट जाते हैं। चलिए जानते हैं –

1. इस्लामिक स्टेट इन सीरिया एंड इराक (ISIS)

यह आतंकी संगठन सीरिया, इराक, यूरोप, तुर्की और बांग्लादेश जैसे कई देशों में अपनी दहशत का लोहा मनवा चुका है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ISIS को दुनिया का सबसे बड़ा खतरा माना जाता है। वर्तमान में ISIS काफी सक्रिय और धनी आतंकी संगठन है। इसका मुख्य उद्देश्य दुनिया में इस्लामीकरण को बढ़ावा देना और इस्लामीक कानून को लागू करना है।

2. अल कायदा

ओसामा बिन लादेन ने सन् 1989 में अल कायदा की स्थापना की थी। ओसामा बिन लादेन ने ही अमेरिका में 9/11 का हमला करवाया था। यह विश्व का पहला आतंकवादी संगठन है, जिसने दुनिया के उच्च शिक्षित पुरुषों और महिलाओं को आंतकवाद में लगाया। उनका मानना था की शिक्षित लोगों पर कोई शक नहीं करता। अमेरिकी सेना का दावा है कि उन्होंने ओसामा बिन लादेन को 2011 में पाकिस्तान के एबटाबाद में मारकर इस संगठन का अंत कर दिया है।

3. तालिबान

इस आतंकी संगठन का निर्माण 1994 में मुल्ला मोहम्मद उमर के नेतृत्व में हुआ था। इस आतंकी संगठन का केवल एक ही मकसद है कि अफगानिस्तान पर दोबारा कब्जा किया जाए। इस संगठन ने पाकिस्तान में 132 आर्मी स्कूल के बच्चों सहित 148 लोगों को मार दिया था। इस आतंकी संगठन को दुनिया के सबसे खतरनाक संगठनों में से एक माना जाता हैं।

4. बोको हराम

यह एक इस्लामी आतंकी संगठन है, जो प्रमुख तौर पर नाइजीरिया का है। इसका मकसद पूरे नाइजीरिया में केवल इस्लामीकरण को बढ़ावा देना है। ग्लोबल टेररिज्म इंडेक्स की रिपोर्ट के अनुसार साल 2013 में आतंकवादी हमलों में 18,111 लोग मारे गए थे। इनमें से 6,644 लोगों की हत्या अकेले बोको हराम आतंकी संगठन द्वारा की गई थी। इस संगठन ने सबसे ज्यादा हमले केवल पांच देशों में किए जिनमें अफगानिस्तान, नाइजीरिया, इराक, पाकिस्तान और सीरिया शामिल हैं।

5. लश्कर-ए-तैयबा

हाफिज मुहम्मद सईद ने इस आतंकी संगठन की स्थापना की थी। मुंबई हमले में लश्कर-ए-तैयबा आतंकी संगठन का ही हाथ माना जाता है। साल 2006 में इस आंतकी संगठन द्वारा मुम्बई में हमला किया गया था। जिसमें 166 लोगों की जान चली गई थी। लश्कर-ए-तैयबा का मुख्य उद्देश्य भारत में आतंकी गतिविधियां फैलाना है। पाकिस्तान में यह संगठन मानवीय हितों की रक्षा करने वाला माना जाता है।

6. अल-शबाब (Al- Shabaab)

साल 2006 में स्थापित इस आतंकी संगठन का मुख्य उद्देश्य था सोमालिया में विदेशी सैन्य बल को रोकना। इस संगठन ने 2015 में केन्या के एक विश्व विद्यालय में एक विनाशकारी हमला किया था, जिसमें 148 निर्दोष छात्र मारे गए थे।

7. तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान

तहरीक-ए-तालिबान आतंकी संगठन का मुखिया मुल्ला फजलुल्ला है। इसने अपना डेरा अफगानिस्तान व पाकिस्तान सीमा के बीच जमाया हुआ है। इसका मुख्य उद्देश्य पाकिस्तान सरकार को जड़ से समाप्त करना हैं।

8. रिवोल्यूशनरी आर्म्ड फोर्सेस ऑफ कोलंबिया

साल 1964 में स्थापित यह मार्क्सवादी-लेनिनवादी आतंकी संगठन कोलंबिया का है जो पूरी दुनिया में ड्रग्स तस्करी व लैटिन अमेरिकी देशों में अपनी आतंकी गतिविधियों के लिए जाना जाता है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप बॉलीकॉर्न.कॉम (bollyycorn.com) के सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पेज को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment