कोरोना से जंग में पीछे छूटे भारत के ये 5 राज्य, सरकार को सता रहा इस बात का डर - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

01 August 2020

कोरोना से जंग में पीछे छूटे भारत के ये 5 राज्य, सरकार को सता रहा इस बात का डर

कोरोना वायरस का खौफ और रौब दोनों ही बढ़ता जा रहा है। तमाम प्रयासों के बावजूद इसके कहर पर अंकुश लगने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। आलम यह है कि अब लगातार संक्रमितों के बढ़ते आंकड़े चिंता का सबब बन चुके हैं। ताजा आंकड़ों के मुताबिक, देशभर में कुल संक्रमितों की संख्या अब 17 लाख के करीब पहुंच चुके हैं। कोरोना के बढ़ते कहर का अंदाजा आप महज इसी से लगा सकते हैं कि पिछले 24 घंटे में कोरोना के 57 हजार 118 नए मामले सामने आए हैं। इससे भी ज्यादा चिंता का विषय यह है कि जिन राज्यों में कोरोना के सर्वाधिक मामले सामने आ रहे हैं, वहां पर स्वास्थ्य व्यवस्था का बड़ा अभाव है। ऐसी स्थिति में यदि इसी दर से इन राज्यों में कोरोना के मामले बढ़ते रहे हैं, तो यह स्थिति गंभीर हो सकती है, लिहाजा सरकार इस पर अंकुश लगाने की दिशा में प्रयास करती हुई नजर आ रही है, मगर मौजूदा हालात इससे इतर कुछ और ही तस्वीर पेश करते हुए दिख रहे हैं।

भयावह हुई इन राज्यों की स्थिति 
मौजूदा वक्त में कोरोना का सबसे ज्यादा खतरा देश के पांच राज्यों में दिख रहा है, जिसमें आंध्र प्रदेश, बिहार, कर्नाटक, ओडिशा और केरल है। कोरोना के बढ़ते कहर का अंदाजा आप महज इसी से लगा सकते हैं कि इन राज्यों से 10 हजार से भी अधिक मामले सामने आ रहे हैं। आंध्र प्रदेश में कोरोना 9.3% की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है जबकि बिहार में ये आंकड़ा 6.1% है। इसके अलावा कर्नाटक, ओडिशा और केरल में भी नए मामले 5% की रफ्तार से बढ़ रहे हैं।

बेडों का बड़ा अभाव 
कोरोना के बढ़ते मामलों से लोग इतना खौफ नहीं खा रहे बल्कि कोरोना के बढ़ते कहर से भी ज्यादा इसके तुलना में मौजूदा बेडों के अभाव से लोग चिंतित नजर आ रहे हैं। आपको बता दें कि आंध्र प्रदेश में प्रति लाख आबादी पर 145 बेड्स है। केरल में 254 बेड ही है। कर्नाटक में 392 तो वहीं बिहार में इसकी  संख्य मात्र 26 है। बहरहाल, बात अगर ओडिशा की करें तो यहां पर हालिया स्थिति दुरूस्त हो रही हैं, मगर मौजदूा वक्त में यहां पर 56 बेड्स ही मौजूद हैं। बिहार में मात्र 26 बेड्स ही मौजूद है। उधर, यदि समग्र तौर पर समस्त देश की बात करें तो पूरे देश में प्रति लाख आबादी पर मात्र 126 बेड ही मौजूद है।

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment