अब होम लोन पर होगी लाखों की बचत, इस तरह से आप भी उठा सकते हैं फायदा - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

26 July 2020

अब होम लोन पर होगी लाखों की बचत, इस तरह से आप भी उठा सकते हैं फायदा

कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण देश भर में आई आर्थिक मंदी व बेरोजगारी से परेशान लोगों को राहत देते हुए कई पब्लिक सेक्टर बैंकें रेपो रेट लिंक्ड होम लोन की स्कीम लेकर आयीं हैं। इस स्कीम के अंतर्गत, फ्लोटिंग होम लोन के लिए ब्याज दर “मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट” (MCLR) की जगह रेपो रेट से लिंक होगा है। MCLR में कम ब्याज दर का फायदा ग्राहकों को मिलता है। रेपो रेट वह दर होती है, जिस दर पर भारतीय रिज़र्व बैंक अन्य कॉमर्शियल बैंकों को कर्ज देती है। आमतौर पर, रेपो रेट से जुड़े होम लोन पर RBI द्वारा नीतिगत ब्याज दरों में बदलाव का फायदा ग्राहकों को तुरंत मिल जाता है।
गौरतलब है कि कोरोना वायरस महामारी के बीच पूरी तरह से डूब चुकी अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए पिछले कुछ महीनों में आरबीआई ने रेपो रेट में भारी कटौती की है। यही वजह है कि रेपो रेट से लिंक्ड होम लोन भी सस्ते हो गये हैं, जबकि इसकी तुलना में एमसीएलआर लिंक्ड होम लोन की दरें महंगी हैं। MCLR की तुलना में रेपो रेट में ऐसे कई फैक्टर्स हैं, जो होम लोन (Repo Rate Linked Home Loan) लेने वालों के लिए इसे आकर्षक बनाता है। इसमें सबसे बड़ा फैक्टर फायदा तो MCLR के मामले में कॉस्ट ऑफ डिपॉजिट का ही होता है।
एक्सपर्ट भी रेपो रेट लिंक्ड में लोन की ही सलाह देते हैं 
आज के समय में रेपो रेट दर से जुड़े होम लोन ज्यादा सस्ते हैं। यही कारण है कि अब एक्सपर्ट्स भी कर्जदारों को रेपो रेट लिंक्ड में लोन शिफ्ट करने की सलाह देते हैं।. वर्तमान समय में रेपो रेट लिंक्ड होम लोन की दर 7 फीसदी सेभी नीचे आ गई है जबकि, बेस रेट और एमसीएलआर लिंक्ड रेट्स 7.50 फीसदी या इससे अधिक हैं। इसे इस तरह से समझा जा सकता है जैसे किसी व्यक्ति ने 8.2 प्रतिशत की दर से एमसीएलआर लिंक्ड होम लोन लिया है।

आसानी से होगी बचत 
इस लोन पर 180 महीने में 25 लाख रुपये का भुगतान करना है। अगर इस ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं होता है तो कुल ब्याज करीब 18.52 लाख रुपये होगा। इसकी ईएमआई करीब 24,180 रुपये होगी। वहीं अगर इसे 7.1 फीसदी की ब्याज दर पर भी रेपो​ लिंक्ड लोन में कन्वर्ट कर लिया जाता है तो इन 180 महीनों के लिए कुल ब्याज करीब 15.69 लाख रुपये होगा। इस तरह रेपो लिंक्ड लोन पर 2.83 लाख रुपये की बचत आसानी से हो जाएगी इससे उन्हें हर महीने 1,570 रुपये कम ईएमआई देनी होगी, जोकि 22,610 रुपये होगी।a
आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment