Breaking News: चीन पर मोदी सरकार की डिजिटल स्ट्राइक, 59 चाइनीज ऐप को भारत में किया बैन - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

30 June 2020

Breaking News: चीन पर मोदी सरकार की डिजिटल स्ट्राइक, 59 चाइनीज ऐप को भारत में किया बैन

चीन के खिलाफ भारत सरकार ने एक्शन लेना शुरू कर दिया है. इस बार इस एक्शन की शुरूआत सैन्य रूप से पहले आर्थिक झटके से की गई है. दरअसल दोनों देशों के बीच तनाव जारी है. ऐसे में मोदी सरकार की ओर से एक और बड़ी घोषणा की गई है. जिसमें चीन के टिकटॉक समेत 59 ऐप पर बैन लगा दिया गया है. दरअसल भारतीय नगरिकों के बीच चीन का टिकटॉक ऐप काफी मशहूर है. इस ऐप के जरिए बहुत से लोगों का हुनर निकलकर सामने आया. लेकिन दोनों देशों के सेनाओं के बीच हुई हिंसक झड़प इस ऐप से बढ़कर तो नहीं हो सकती है. यही वजह है कि सरकार ने इसके साथ ही पूरे 59 चाइनीज ऐप पर प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया है.


दरअसल ये निजता की सुरक्षा का मामला माना जा रहा है. टिकटॉक के साथ और जिन मशहूर ऐप को बैन किया गया है, उनमें शेयरइट, हैलो, यूसी ब्राउजर, लाइकी और वीचैट समेत पूरे 59 ऐप के शामिल होने की बात कही जा रही है. बता दें कि सरकार की तरफ से हाल ही में जारी किए गए नए निर्देश के मुताबिक उन 59 मोबाइल ऐप पर प्रतिबंध लगाया गया है, जो भारत की संप्रभुता, अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए रूकावट पैदा कर रहे थे.जानकारी के मुताबिक सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम (IT Act) की धारा 69 ए के तहत सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के प्रावधानों के तहत इसे लागू करते हुए सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने (प्रोसिजर एंड सेफगार्ड्स फॉर ब्लॉकिंग ऑफ एक्सेस ऑफ इंफॉरमेशन बाई पब्लिक) नियम 2009 और खतरों की आकस्मिक प्रकृति को देखते हुए इन 59 ऐप को बैन किया है.


इस बारे में सरकार की माने तो इन सभी 59 ऐप्स को इस वजह से बैन करने का कदम उठाया गया है. क्योंकि जो जानकारी मिल रही है उसके अनुसार वो लोग ऐसी गतिविधियों में लगे हुए हैं जिससे भारत की संप्रभुता, अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए रोडा पैदा कर सकें. साथ ही सरकार का ये भी कहना है कि डेटा सुरक्षा से संबंधित सभी बातों और 130 करोड़ भारतीयों की प्राइवेसी सुरक्षा को लेकर चिंताएं बढ़ गई थीं. ऐसे में जब इन बातों पर गौर किया गया तो पता चला कि इस तरह की चिंताओं से हमारे देश की संप्रभुता और सुरक्षा को भी खतरा है.

आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment