जाने सामुद्रिक शास्त्र क्या कहता है स्त्री के पैरों के तलवे के बारे में - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

19 June 2020

जाने सामुद्रिक शास्त्र क्या कहता है स्त्री के पैरों के तलवे के बारे में

सामुद्रिक शास्त्र यानी अंग शास्त्र के अनुसार आपके शरीर के अंगों में कई सारे राज़ छिपे होते हैं। हाथ की रेखाऐं जितना आपके पैर के तलवे उसकी आने वाली ज़िन्दगी के राज़ खोलती है। जी हाँ आज आपके पैर के तलवों की रेखाऐं खोलेंगी आपके होने वाले पति के किसमत के राज़।
जाहिर है कि हर एक स्त्री के पैर में कई खास तरह की रेखाएं और निशान होते हैं, जो कि कई तरह के संकेत देते हैं। मान्यता है कि किसी स्त्री के पैरों के तलवों पर चक्र, ध्वज या स्वास्तिक का निशान होता है तो उससे शादी करने वाला शख्स को राजयोग प्राप्त होता है।
सामुद्रिक शास्त्र के मुताबिक, अगर किसी महिला के पैर के तलवों के गद्देदार हिस्से पर कोई रेखा पैर की उंगुलियों की तरफ से ऊपर जा रही हो तो उस स्त्री को पति के लिए शुभ माना जाता है। वहीं अगर महिला के पैर की अनामिका और कनिष्ठिका उंगुली जमीन को स्पर्श नहीं करती तो यह छोटी उम्र में विधवा होने का अशुभ संकेत है। वहीं स्त्री के पैर के तलवों पर कमल या छत्र का निशान है तो इसका अर्थ है कि उस महिला का पति को राजनीति के फील्ड में सफलता मिलेगा।
दूसरी ओर किसी महिला की अनामिका उंगुली की लंबाई, तर्जनी उंगुली और अंगूठे से बड़ी है तो इसका मतलब कि वह स्त्री अपने पति के लिए किसी विशेष चिंता का कारण बन सकती है। वहीं अगर किसी महिला के पैर की अनामिका उंगुली और मध्यम उंगुली की लंबाई लगभग बराबर है तो उस स्त्री के पति को आर्थित तंगी का सामना करना पड़ सकता है। दूसरी तरफ अगर महिला के पैरों की एड़ी गोल, कोमल और आकर्षक है तो इसका अर्थ है कि ऐसी स्त्री को चकाचौंध से भरी जीवनशैली मिलती है।

No comments:

Post a Comment