ये हैं दुनिया की सबसे डरावनी गुड़िया, इनकी कहानी जान आपके भी रौंगटे हो जाएंगे खड़े - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

16 June 2020

ये हैं दुनिया की सबसे डरावनी गुड़िया, इनकी कहानी जान आपके भी रौंगटे हो जाएंगे खड़े

अक्सर हम कई डरावनी जगहों के बारे में लोगों से सुनते रहते हैं। इसके अलावा आपने बहुत सी ऐसी गुड़ियों के बारे में भी सुना होगा जिन्हें भूतहा कहा जाता है। इनकी कहानियों के बारे में सुनकर हमेशा यही लगता है कि क्या यह वाकई सच है या फिर डर फैलाने के लिए लोगों की बनाई हुई बाते हैं? आज हम आपको ऐसी ही कुछ गुड़ियों की कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें शैतान कहा जाता है। बहुत सी रिपॉर्ट्स में दावा किया गया है कि इनके बारे में जितनी भी बातें सुनी हैं वह सब सच हैं। तो चलिए जानते हैं कि कौन सी हैं ये गुड़िया और क्या है इनकी कहानी।
मैंडी:- इस गुड़िया की मालकिन का कहना है कि मैंडी में कुछ असाधारण सी शक्तियां थीं। उन्हें आधीरात में जोर-जोर से अपने घर में किसी बच्चे के रोने की आवाजें सुनाई देती थीं। यहां तक घर में जिस जगह ये गुड़िया रखी हुई थी उस कमरे की खिड़कियां भी अपने आप खुल जाया करती थीं। इसके अलावा भी घर में कई अजीबो-गरीब घटनाएं होती रहती थीं, जिससे परेशान होकर उन्होंने 1991 में इस मैंडी डॉल को म्यूजियम के हवाले कर दिया। आज भी यह गुड़िया कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया के क्यूसनेल और डिस्टइक्ट म्यूजियम में मौजूद है।
हैरोल्ड:- इस गुड़िया के मालिक का कहना था कि इसमें बहुत कुछ अजीब सा है। जबसे यह गुड़िया उनके घर आई थी तभी से उन्हें और उनकी गर्लफ्रेंड को गंभीर माइग्रेन हो गया था, इसके अलावा उसी दौरान उनकी बिल्ली की भी मौत हो गई। इसके मालिक का कहना था कि यह एक भूतहा गुड़िया है, उन्होंने खुद इसे किसी बच्चे की तरह रोते और हंसते सुना था। उन्होंने अपने घर के बेसमेंट में इस गुड़िया को रख दिया था और वहीं से आवाजें भी आती रहती थीं। बाद में उन्होंने इसे किसी ऑनलाइन वेबसाइट पर बेच दिया था। कहते हैं कि यह डॉल जिसके पास भी रही उसको पूरी तरह से बर्बाद कर दिया।
रोबर्ट:- इस गुड़िया के बारे में कहा जाता है कि यह पूरे कमरे में घूमती है। इसे आज फ्लोरिडा के फोर्ट ईस्ट मारटेल्लो म्यूजियम में रखा गया है। यहां जाने वाले विजिटर्स और म्यूजियम के कर्मचारियों का कहना है कि अगर कोई इस गुड़िया के साथ तस्वीर क्लिक करवाने की कोशिश करता है तो उसका या तो कैमरा ही खराब हो जाता है या फिर तस्वीर बिगड़ जाती है। कहते हैं कि म्यूजियम में इसे जिस कमरे में रखा गया है यह वहां भी घूमती है।
पैग्गी:- यह गुड़िया जिस म्यूजियम में रखी गई है वहां जाने वाले 80 प्रतिशत लोगों का कहना है कि अगर कोई इसकी ओर ध्यान से देख ले तो यह उन्हें ऐसे रिएक्शन्स देती है कि लोग अपनी ही आंखों पर भरोसा नहीं कर पाते। कहा जाता है कि, इस गुड़िया को जिस परिवार ने अपने पास रखा था उन्हें डरावने सपने आने लगते थे। इसके बाद उन्होंने घर में पूजा भी करवाई, लेकिन बात नहीं बनी, बल्कि स्थिति और ज्यादा बिगड़ गई और उन्हें तंग आकर इसे बेचना पड़ा।
ओकिकू:- वर्ष 1918 में एक शख्स ने इस गुड़िया को अपनी छोटी बहन के लिए खरीदा था। लेकिन कुछ समय बाद बीमारी के कारण उस लड़की की मौत हो गई। उसके परिवार का कहना है कि वह इस गुड़िया को बहुत प्यार करती थी, इसलिए शायद मरने के बाद उसकी आत्मा इसमें आ गई है। उनका कहना है कि इस गुड़िया के बाल लगातार बढ़ते रहते हैं, जबकि वह नियमित तौर पर इसे कंधे तक काट दिया करते थे। उन्होंने अपना घर दूसरी जगह बदलने के कारण इस गुड़िया को किसी मंदिर में रख दिया था।
एनाबेले:- वर्ष 1970 में इस क्यूट सी दिखाई देने वाली यह गुड़िया एक महिला ने अपनी बेटी को गिफ्ट की थी, जिसे देखकर बच्ची बहुत खुश हुई। लेकिन कुछ समय बाद ही यह खुशी खौफ में तबदील हो गई। शुरुआत में तो सब ठीक था, लेकिन कुछ दिन बाद इस गुड़िया ने अपने हाथ हिलाने शुरु कर दिए। इसके बाद अगर कभी रात को इसे कुर्सी पर रखा जाता था सुबह यह जमीन पर होती थी और अगर बेडरूम में रखों तो सुबह हॉल में मिलती थी। लेकिन हालात तो तब बिगड़ गए जब एक दिन इस पर खून के धब्बे पड़े हुए दिखे। फिर बिना कोई देरी किए इसकी मालकिन ने पैरानॉर्मल एक्सपर्ट्स एड और लॉरैन को मदद के लिए बुलाया। उन्होंने इसे देखकर बताया कि इसमें बेहद शक्तिशाली आत्मा का वास है। इसके बाद उन्होंने बहुत मुश्किल से एनाबेले को ओकलट म्यूजियम में शीशे के शोकेस में रख दिया। आज भी यह वहीं बंद और इस पर हाथ न लगाने की चेतावनी लिखी हुई है।

No comments:

Post a Comment