डाक्टर्स भी होते हैं भम्रों का शिकार, सलाह मानने से पहले पढ़ लीजिए ये रिपोर्ट - Bollyycorn

Breaking

Bollyycorn

Bollywood-Hollywood-TV Serial-Bhojpuri-Cinema-Politics News, Gadgets News

23 June 2020

डाक्टर्स भी होते हैं भम्रों का शिकार, सलाह मानने से पहले पढ़ लीजिए ये रिपोर्ट

जी हां, हमारे समाज में डॉक्टर को भगवान का दर्जा दिया गया है, ऐसे में लोग उनकी हर सलाह को मानते हैं, क्योंकि लोगों के सेहत का जिम्मा उन्ही के हाथों में होता है। पर क्या आपको पता है कि आपके डाक्टर भी कई मामलों में गलत हो सकते हैं। दरअसल, ये हम यूं ही नहीं कह रहे हैं कि बल्कि एक हालिया रिपोर्ट से ये बात उजागर हुई है कि विज्ञान की कसौटी पर डॉक्टरों की कई सलाहें खरी नहीं उतरती हैं।
जी हां, इस रिपोर्टे में ये साफ-साफ कहा गया है कि डाक्टर्स भी कई तरह के भ्रम का शिकार होते हैं... यानी कि डॉक्टर से मिलने कई सलाह बिलकुल निराधार होती हैं। अमेरिका के ओरेगॉन हेल्थ एंड साइंस यूनिवर्सिटी में हुए इस शोध की माने तो सालों से चली आ रही हैं ऐसी कई सलाह के पीछे कोई तार्किक वजह नहीं होती, लेकिन ये एक सलाह के रूप में एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति तक पहुंचता रहता है।इस रिपोर्ट में ऐसे 400 सलाह का जिक्र किया गया है, जिनके बारे में मेडिकल साइंस अलग राय रखता है। चलिए आपको भी मेडिकल की दुनिया में फैले हुए ऐसे कई भ्रम के बारे में बताते हैं।
बच्चों को मूंगफली नहीं खिलानी चाहिए
आमतौर पर माना जाता है कि बच्चों में पीनट एलर्जी होने की सम्भावना रहती है, ऐसे में डाक्टर्स तीन साल तक के बच्चों को मूंगफली नहीं खिलाने सलाह देते हैं। जबकि वहीं जब इस तर्क को मेडिकल साइंस के मानको पर परखा गया तो ये पाया गया कि ऐसा जरूरी नहीं है कि सभी बच्चों में पीनट एलर्जी होती है और ना ही इसका उम्र से की लेना देना है।
मछली के तेल से दूर होती है दिल की बीमारी
जी हां, ये आम धारणा है कि मछली का तेल दिल की बीमारियों को दूर करता है। काफी हद ये इसलिए भी कहा जाता है कि क्योंकि इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड पाई जाती है। पर वहीं जब लगभग 12,500 लोगों पर इसे प्रयोग में लाया गया तो ये बिलकुल निराधार पाया गया।
कैलोरी ट्रैकर वजन कम करता है
इस वक्त मार्केट में ऐसे कई सारे कैलोरी ट्रैकर और कदम गिनने वाले डिवाइस मौजूद हैं, जो कि वजन कम करेन का दावा करते हैं। कई सारे डॉक्टर वजन को नियंत्रित करने के लिए इसे पहनने की सलाह देते हैं। हालांकि मेडिकल साइंस में जब ऐसे कैलोरी ट्रैकर के प्रभाव का विश्लेषण किया गया तो ये बिलकिल निराधार पाया गया कि ये वजन कम करता है, बल्कि कई बार तो इसका बिलकुल उल्टा प्रभाव देखने को मिलता है।
आपको ये पोस्ट कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए आप हमें सोशल मीडिया फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम पर को फॉलो करें।

No comments:

Post a Comment